ट्रेन यात्रा मे चुदाई की कहानी

train mai chudai ki kahani ये बात लगभग १ साल पहले की है. हमारे रिश्तेदारी में किसी की डेथ हो गई थी. मेरे पति अपने काम धंधों में व्यस्त थे इसलिए मुझे ही वहां जाना पड़ा. ट्रेन का सफर था और मुझे अकेले ही जाना था इसलिए मेरे पति ने प्रथम श्रेणी एसी में मेरे लिए रिज़र्वेशन करवा दिया था.

रात को दस बजे की ट्रेन थी. मुझे मेरे पति स्टेशन तक छोड़ने के लिए आए और मुझे मेरे कूपे में बिठा कर टिकेट चेकर से मिलने चले गए. मेरा कूपा केवल दो सीटों वाला था.

अभी तक दूसरी सीट पर कोई भी पेसेंजेर नहीं आया था. मैंने अपने सामान सेट किया और अपने पति की इंतज़ार करने लगी. थोडी ही देर में मेरे पति वापस आ गए. उनके साथ ब्लैके कोट में एक आदमी भी आया था. वो टिकेट चेकर था. उसके उम्र करीब छब्बीस साल की थी, रंग गोरा और करीब पौने छह फीट लंबा हेंडसम नवयुवके लग रहा था. मेरे पति ने उससे मेरा परिचय करवाया. वो आदमी केवल देखने में ही हेंडसम नहीं था बल्कि बातचीत करने में भी शरीफ लग रहा था.

उसने मुझसे कहा

” चिंता मत कीजिये मैडम मैं इसी कोच में हूँ कोई भी परेशानी हो तो मुझे बता दीजियेगा मैं हाज़िर हो जाऊंगा. आपके साथ वाली बर्थ खाली है अगर कोई पेसेंजर आया भी तो कोई महिला ही आएगी इसलिए आप निश्चिंत हो कर सो सकती हैं.”

उसकी बातों से मुझे और मेरे साथ साथ मेरे पति को भी तसल्ली हो गई. ट्रेन चलने वाली थी इसलिए मेरे पति ट्रेन से नीचे उतर गए. उसी समय ट्रेन चल दी. मैंने अपने पति को खिड़की में से बाय किया और फिर अपने सीट पर आराम से बैठ गई. दोस्तों मुझे आज अपने पति से दूर जाने में बिल्कुल अच्छा नहीं लग रहा था. इसका कारण ये था कि मेरी मौसी हवारी ख़तम हुए अभी एक ही दिन बीता था और जैसा कि आप सब लोग जानते हैं मेरी जैसी चुदक्कड़ औरत की ऐसे दिनों में चूत की प्यास कितनी बढ़ जाती है. मैं अपने पति से जी भर कर चुदवाना चाहती थी लेकिन अचानक मुझे बाहर जाना पड़ रहा था. इसी कारण से मैं मन ही मन दुखी थी.

यह कहानी भी पड़े  ससुर ने गांड मारी बरसात में

तभी कूपे में वो हेंडसम टीटी आ गया. उसने कहा

“मैडम आप गेट बंद कर लीजिये मैं कुछ देर में आता हूँ तब आपका टिकेट चेके कर लूँगा.”

उसके जाने के बाद मैंने सोचा की चलो कपड़े बदल लेती हूँ. क्योंकि रात भर का सफर था और मुझे साड़ी में नींद नहीं आती. ये सोच कर मैंने गाउन निकालने के लिए अपना सूटकस खोला तो सर पकड़ लिया. क्योंकि मैं जल्दबाजी में गाउन के ऊपर वाला नेट का पीस तो ले

आई थी लेकिन अन्दर पहनने वाला हिस्सा घर पर ही रह गया था. जो हिस्सा मैं लाई थी वो पूरा जालीदार था जिसमें से सब कुछ दीखता था.

करीब दो मिनट बैठने के बाद मेरी अन्तर्वासना ने मुझे एक नया निर्णय लेने के लिए विवश कर दिया. मैंने सोचा कि क्यों आज इस हेंडसम नौजवान से चुदाई का मज़ा लिया जाए. ये बात दिमौसी ग में आते ही मैंने वो जालीदार केवर निकाल लिया और ज़ल्दी से अपनी साड़ी, ब्लाउज़ और पेटीकोट निकाल दिए. अब मेरे बदन पर रेड कल र की पेंटी और ब्रा थी. उसके ऊपर मैंने सफ़ेद रंग का जालीदार गाउन पहन लिया. वैसे उसको पहनने का कोई फायदा नहीं था क्योंकि उसमे से सब कुछ साफ़ नज़र आ रहा था और उससे ज्यादा मज़ेदार बात ये थी कि अन्दर पहनी हुई ब्रा और पेंटी भी जालीदार थी. इसलिए बाहर से ही मेरे निपल तक नज़र आ रहे थे. ख़ुद को आईने में देखकर मैं ख़ुद ही गरम हो गई. साड़ी तैयारी करने के बाद मैं अपनी सीट पर लेट गई और मैगज़ीन पढ़ते हुए टीटी का इंतजार करने लगी. मुझे इंतज़ार करते करते पाँच मिनट बीत गए तो मैंने सोचा कि क्यूँ न पहले खाना खाकर फ्री हो लूँ ये सोच कर मैंने अपना खाना निकाल लिया जो मैं घर से साथ लाई थी. खाना शुरू करते हुए मैंने सोचा कि खाने के बीच मैं टीटी टिकेट चेके करने आ गया तो बीच में उठ कर टिकेट निकालना पड़ेगा ये सोच कर मैंने अपने पर्स में रखा टिकेट निकाल लिया. टिकेट हाथ में आते ही मेरी आँखों के सामने उस टीटी का जवान बदन घूम गया और मेरे अन्दर की सेक्सी औरत ने अपना काम करना शुरू कर दिया. मैंने पहले ही जालीदार कपड़े पहने थे जिसमे से मेरा पूरा बदन दिखाई पड़ रहा था और फिर मैंने अपना टिकेट भी अपने बड़े बड़े स्तनों के अन्दर ब्रा के बीच मैं डाल लिया. अब वो टिकेट दूर से ही मेरे बायें उरोज के निप्पल के पास दिखाई दे रहा था.

यह कहानी भी पड़े  मेरे घर आई एक कमसिन परी

पूरी तैयारी के बाद मैं खाना खाने लगी. तभी मेरे कूपे का गेट खुला और टीटी अन्दर आ गया. अन्दर आते ही मुझे पारदर्शी केपडों में देखकर बेचारे को पसीना आ गया. वह बिल्कुल सकेपका गया और इधर उधर देखने लगा. मैंने उसका होंसला बढ़ाने के लिए उसकी तरफ़

Pages: 1 2 3 4 5 6

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


मम्मी पापा सेक्स स्टोरी हिंदीगर्लफ्रेन्ड से चुदाईshohar k saamne gundo ne chodaदो बांस और भाई hindi sexनदी किनारे सेक्स स्टोरी हिन्दीचुत,sadi suds Badi Didi ko Gand Mar storyjhathu sex pron vidioमम्मी पापा सेक्स स्टोरी हिंदीChoot chudai ragadkr xvdoकचची कली कि चुदाई विडियोmami ke sath bathroom mein sex storyचुतसे विरियPron storysarvent ka sath sexरण्डी की चुदाई कहानीआज तुम्हारे बुर का स्वाद चखा phimsetmyhangसाड़ी पारदर्शी दिखाई सेक्स कहानीताऊ और माँ कि चुदाई खेत मेladki ki sexy hindh storywww.xxxteen.ladaki.ke.tite.chudai.vidioपति के बगल में सोते हुए दूसरा पति एक्स एक्स एक्स वीडियो डॉट कॉमफुला चुतbina undergarment wali ki antarvasnachutaroki wasnaजाति लडकी कि खेत मे चुदाईपेटीकोट उठाकर चूत मारी पापा ने मम्मी कीnaukrani ko Malmal ka lund Pasand Aayaचाची की चुदाई कामुकता कॉमAnatarvasna me solelyताऊ और माँ कि चुदाई खेत मेSexkahani samast familyAnatarvasna me solelybhabhikichudaibolkeAntar tai की cudaiसेक्सी हिंदी कहानीdipaliAzeem gand chudai storyhavili antarvasnaअन्तर्वासनारात भर मेरी चूत जो चोदा बेदर्दी नेदीदी को बेहोश कर चुची चुसाईमेरा 12 इंच का लण्दछत के बाथरूम में पड़ोस की लड़की कहानीsaree utarne ke bad xxnxचुदकर चुदाईसेकसी वीडियो फोकी।मै।लढ।ढालते।हुऐ।बाड़मेर से चुदाई कहानीShakira Hindi chudai bur ka Choda saal meinचुत mumPhim sex nhanh địt nhau như ăn cướpविधवा मैडम को चोदाbeti rozana chudaiएक बार लौडा दे दे कमीनेबाती की चूत फट गईमुझे टांग उठा कर चुदना हैसेक्सी स्टोरी इन पोर्न मूवीअन्तर्वासना काजलमेरी ननद रानी चुड़ै स्टोरीDesi hindi bade doodh waali aunty ko bus me choda hindi kaamuk storyदीदी के सत रुओं में छोड़ाए किये हिंदी सेक्स स्टोरीमाँ के देहांत बाद बचपन से मौसी लंड की तेल मालीश करती चुदाई की कहानीयामालकिन की चूदाई जोर जोर सेchik nikal gaand faad indian sexSuhagrat ki sexy video Dheere Dheere Kapda Utarasangita tai ki chudai incest storiesहिंदी रंगीन परिवार चुदाई कहानीsamuhik magha sex hindi storyantervsna auntकामोन्माद चुदाईकमला चाची की चूत मारी Storykirayedar rasoi me chudai antarvasnaमेरी कमला भाभी कि प्यास बझाईRitika sex but and chut ki kahaniमै बहन की बुर मे मुतता हुंphimsetmyhangनेहा मौसी कि चुदाईखेल -2 में माँ की चुदाईhaste huye bhabhi ke chudai karteचूत से पानी टपकने लगारिश्तों में चुदाई की हिंदी सेक्सी कहानियाँजाआअकामुकता.कथामैं हचक कर चुदीमैं कुछ करता हूँ अन्तर्वासनानीग्रो से चूत चुदायी की कहानियाँटिचर बोली मुझे दो मोटे लँड से चोदोsexxxx muhbme lehidi sex cheer ki khaniमेरे दोस्त ने मेरी भाभी को चोदा-2