ट्रेन यात्रा मे चुदाई की कहानी

train mai chudai ki kahani ये बात लगभग १ साल पहले की है. हमारे रिश्तेदारी में किसी की डेथ हो गई थी. मेरे पति अपने काम धंधों में व्यस्त थे इसलिए मुझे ही वहां जाना पड़ा. ट्रेन का सफर था और मुझे अकेले ही जाना था इसलिए मेरे पति ने प्रथम श्रेणी एसी में मेरे लिए रिज़र्वेशन करवा दिया था.

रात को दस बजे की ट्रेन थी. मुझे मेरे पति स्टेशन तक छोड़ने के लिए आए और मुझे मेरे कूपे में बिठा कर टिकेट चेकर से मिलने चले गए. मेरा कूपा केवल दो सीटों वाला था.

अभी तक दूसरी सीट पर कोई भी पेसेंजेर नहीं आया था. मैंने अपने सामान सेट किया और अपने पति की इंतज़ार करने लगी. थोडी ही देर में मेरे पति वापस आ गए. उनके साथ ब्लैके कोट में एक आदमी भी आया था. वो टिकेट चेकर था. उसके उम्र करीब छब्बीस साल की थी, रंग गोरा और करीब पौने छह फीट लंबा हेंडसम नवयुवके लग रहा था. मेरे पति ने उससे मेरा परिचय करवाया. वो आदमी केवल देखने में ही हेंडसम नहीं था बल्कि बातचीत करने में भी शरीफ लग रहा था.

उसने मुझसे कहा

” चिंता मत कीजिये मैडम मैं इसी कोच में हूँ कोई भी परेशानी हो तो मुझे बता दीजियेगा मैं हाज़िर हो जाऊंगा. आपके साथ वाली बर्थ खाली है अगर कोई पेसेंजर आया भी तो कोई महिला ही आएगी इसलिए आप निश्चिंत हो कर सो सकती हैं.”

उसकी बातों से मुझे और मेरे साथ साथ मेरे पति को भी तसल्ली हो गई. ट्रेन चलने वाली थी इसलिए मेरे पति ट्रेन से नीचे उतर गए. उसी समय ट्रेन चल दी. मैंने अपने पति को खिड़की में से बाय किया और फिर अपने सीट पर आराम से बैठ गई. दोस्तों मुझे आज अपने पति से दूर जाने में बिल्कुल अच्छा नहीं लग रहा था. इसका कारण ये था कि मेरी मौसी हवारी ख़तम हुए अभी एक ही दिन बीता था और जैसा कि आप सब लोग जानते हैं मेरी जैसी चुदक्कड़ औरत की ऐसे दिनों में चूत की प्यास कितनी बढ़ जाती है. मैं अपने पति से जी भर कर चुदवाना चाहती थी लेकिन अचानक मुझे बाहर जाना पड़ रहा था. इसी कारण से मैं मन ही मन दुखी थी.

यह कहानी भी पड़े  मेरी बहेन दीपा की हॉट चुदाई - 1

तभी कूपे में वो हेंडसम टीटी आ गया. उसने कहा

“मैडम आप गेट बंद कर लीजिये मैं कुछ देर में आता हूँ तब आपका टिकेट चेके कर लूँगा.”

उसके जाने के बाद मैंने सोचा की चलो कपड़े बदल लेती हूँ. क्योंकि रात भर का सफर था और मुझे साड़ी में नींद नहीं आती. ये सोच कर मैंने गाउन निकालने के लिए अपना सूटकस खोला तो सर पकड़ लिया. क्योंकि मैं जल्दबाजी में गाउन के ऊपर वाला नेट का पीस तो ले

आई थी लेकिन अन्दर पहनने वाला हिस्सा घर पर ही रह गया था. जो हिस्सा मैं लाई थी वो पूरा जालीदार था जिसमें से सब कुछ दीखता था.

करीब दो मिनट बैठने के बाद मेरी अन्तर्वासना ने मुझे एक नया निर्णय लेने के लिए विवश कर दिया. मैंने सोचा कि क्यों आज इस हेंडसम नौजवान से चुदाई का मज़ा लिया जाए. ये बात दिमौसी ग में आते ही मैंने वो जालीदार केवर निकाल लिया और ज़ल्दी से अपनी साड़ी, ब्लाउज़ और पेटीकोट निकाल दिए. अब मेरे बदन पर रेड कल र की पेंटी और ब्रा थी. उसके ऊपर मैंने सफ़ेद रंग का जालीदार गाउन पहन लिया. वैसे उसको पहनने का कोई फायदा नहीं था क्योंकि उसमे से सब कुछ साफ़ नज़र आ रहा था और उससे ज्यादा मज़ेदार बात ये थी कि अन्दर पहनी हुई ब्रा और पेंटी भी जालीदार थी. इसलिए बाहर से ही मेरे निपल तक नज़र आ रहे थे. ख़ुद को आईने में देखकर मैं ख़ुद ही गरम हो गई. साड़ी तैयारी करने के बाद मैं अपनी सीट पर लेट गई और मैगज़ीन पढ़ते हुए टीटी का इंतजार करने लगी. मुझे इंतज़ार करते करते पाँच मिनट बीत गए तो मैंने सोचा कि क्यूँ न पहले खाना खाकर फ्री हो लूँ ये सोच कर मैंने अपना खाना निकाल लिया जो मैं घर से साथ लाई थी. खाना शुरू करते हुए मैंने सोचा कि खाने के बीच मैं टीटी टिकेट चेके करने आ गया तो बीच में उठ कर टिकेट निकालना पड़ेगा ये सोच कर मैंने अपने पर्स में रखा टिकेट निकाल लिया. टिकेट हाथ में आते ही मेरी आँखों के सामने उस टीटी का जवान बदन घूम गया और मेरे अन्दर की सेक्सी औरत ने अपना काम करना शुरू कर दिया. मैंने पहले ही जालीदार कपड़े पहने थे जिसमे से मेरा पूरा बदन दिखाई पड़ रहा था और फिर मैंने अपना टिकेट भी अपने बड़े बड़े स्तनों के अन्दर ब्रा के बीच मैं डाल लिया. अब वो टिकेट दूर से ही मेरे बायें उरोज के निप्पल के पास दिखाई दे रहा था.

यह कहानी भी पड़े  मेरी फ़ुफ़ेरी बहन की शादी में उसकी चुत की चुदाई

पूरी तैयारी के बाद मैं खाना खाने लगी. तभी मेरे कूपे का गेट खुला और टीटी अन्दर आ गया. अन्दर आते ही मुझे पारदर्शी केपडों में देखकर बेचारे को पसीना आ गया. वह बिल्कुल सकेपका गया और इधर उधर देखने लगा. मैंने उसका होंसला बढ़ाने के लिए उसकी तरफ़

Pages: 1 2 3 4 5 6

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


पापा से छुड़वाने के लिए माँ को मनायासेक्सी स्टोरी हिंदी ताउजी नेहवाई जहाज में चुदाई की कहानी हिंदीtai cudai hindi sex storyantrvasna. randi saas rajniभीड़ में मोटी सास के चूतड़ों का मज़ा स्टोरीhum open minded hai chudai ke liyema ko rula diya chodkar bete ne xxx storiMausi aur maa ki tubewel pr chudai ki लंड बिल में घुस जाता कहानीBe libas chudai kahaniचुत और लंड का तक्करनंगे चूचे चूसनामोटे मोटे लण्ड की प्यासी माओं की चुदाईभाभी मुझे पेशाब आ रहा हैRajsarma sex stori hindiगुदा का चैकअप चुदाई की कहानीChut me daat katna pornचोदनाantervasna,com foji untibhabhi अपनी करवट बदल ली कि अबhum open minded hai chudai ke liyeकावेरी सेक्सी कहानीBenkar gandh cudai sex xxxहिन्दी जोर दार चुदाई कि कहानीराज शर्मा सेक्स स्तोरियेसdidi chudi awara ladko seaGaon me randi ki gand mari kachhii fadkarकुवरी लङकी चिकने दूधsexy story posan wale antyMoapsi ki chudae xxx porn vलडकी ने पति के बदले ससुर के साथ सुहागरात मनायाकमला kake ke chudae की कहानी सपना का बदला 2 sxsi khaniyaचुतहलकीलंड पे मंगलसूत्र लपेट के चूसantarvasna दीदी की sopingbhabi ne mujhse bra ke hook lagawa kar chudwal liya sex storiमाँ बेटा राज शर्मा सेक्स स्टोरीजjaklingi xxxxXxx Sex sister gajar Muli ke sath Chut Chudai full HD videokahani xxx gand chiknaमौसी का सेक्सhabshi lauda hindiकाली।चूतवासनाrajai me chhoti ladki se chudai ki kahaniyaबुर लंड घुसाने की कविताdekha kamuktaxxxgiral farind Hindiलंबे और मोटे लंड से चुदी आंटीanterwasnaki sarwadhik sexy kahaniसाहब आप बहुत पाजी हैं पर्दे खींच दोचाची और बहन की चुदाईचूत की फांकेंxossip रामलाल और राधा बहूhttps://buyprednisone.ru/antarvasna-sex-stories-pyara-sa-sapna/3/bhan shila सेक्स स्टोरीanterwaanaसेक्स स्टोरी पड़ोसन भाभीमै किसी के प्यार मैं फंस गई और उसने की मेरी गैंगबैंग चुदाईxxx sex in bhabhi suhagrat rubdi khanniमाँ और मकान मालिक सेक्स स्टोरीजबहन, भाई, का, बुर, चुकायी, आडीओमौसि के chakkar me maa ko chod diya sex ki sachi kahaniya.injahaaz k ander chudayi.माँ के देहांत बाद बचपन से मौसी लंड की तेल मालीश करती चुदाई की कहानीयाअन्तर्वासना भाई बहन दारू पी केantarbsna ma or bhan ke gand balkneचुत और लँङHindi xxx story mamyy ne kha bra ka huk lga de betaचूत के से चोदि जाति है बतामेरी चुदाईहनीमून चुदाई कहानी हिंदीdaru ke nashe me chudai nonveg story.पापा ने कामवालि सलमा कि गांड sex story