शाहिद को अम्मी ने खुश कर दिया

हाय रीडर्स. मेरा नाम शाहिद है। दोस्तों आप सच माने या झूठ. मैं आप को कभी ये नही कहना चाहता के आप भी ऐसा ही करना जेसा मैंने किया या ज़िंदगी ने मुझसे कराया लेकिन शायद आप को मैं ये समझा सकूँ और इसलिये ये आप को बता रहा हूँ ताकि शायद इस तरह मेरा गुनाह कुछ
कम हो जाये. यह जो कुछ भी हुआ यह कहानी नही बल्कि आपबीती है एक मजबुर इंसान की. उस वक़्त मैं 18 साल का था. और 12वी के पेपर दे चुका था.

मेरे अलावा मेरे घर मैं मेरी अम्मी जी और छोटी बहन रहते थे. मेरा एक बड़ा भाई भी है जो दुबई रहता है और मेरे अब्बू जी मर चुके हैं 5 साल पहले. मेरे बड़े भाई का नाम महमूद है,मेरी अम्मी जी का नाम सजदा है और मेरी छोटी बहन का नाम रेहाना है. रेहाना 9वी क्लास मैं पढ़ती है. और मेरे साथ बहुत शरारत करती है. और घर मैं सबकी लाड़ली है मैं अगर कभी गुस्से मैं उससे कुछ कह दूँ तो अम्मी जी से मुझे बहुत डाट पड़ती है। लेकिन वेसे देखा जाये तो अम्मी जी मुझ से कुछ ज्यादा प्यार करती थी. जेसा की अक्सर घरो मैं होता है. इन दिनो में किसी काम से बाहर था और मैंने नया नया काम शुरु किया था इसलिये मेरा दिल और क़िसी चीज़ की तरफ लगता ही नही था बस हर वक़्त दिमाग में बस यही चीज़ रहती थी की मेरे सभी दोस्तो के गर्ल फ्रेंड्स थी पर मैं इस मामले मैं भी काफ़ी बुज़दिल निकला था इसलिये बस सोचने से ही काम चलता था. और वेसे भी मैं घर से कम ही निकलता था. क्योकी मेरे कोई ज़्यादा दोस्त भी नही थे बस शाम को थोड़ी देर के लिये जाता.
मैं बहुत ज़्यादा अच्छा लड़का नही था और अम्मी जी की बात भी नही सुनता था. और इस बात पर वो अक्सर दुखी भी रहती और कहती तुम्हारे अब्बू जी भी नही हैं तुम तो मेरी बात सुना करो बस अगर मेरा मूड होता तो मानता वरना नही. एक दिन अम्मी जी ने मुझे किचन से आवाज़ दी बेटा एक बात सुनो ज़रा, मेरा लंड उस वक़्त खड़ा था मैं जाना नही चाहता था लेकिन अम्मी ने जब गुस्से से बुलाया तो मैं चला गया. मैंने अपने आगे अपने दोनो हाथ बाँध रखे थे ताकि पेन्ट मैं से मेरा खड़ा लंड नज़र ना आये.लेकिन जब मैं किचन में गया अम्मी ने नीचे देखा तो फिर बड़ी गौर से मेरी तरफ देखा मेरे ख्याल में उन्हे शक़ हो गया था आख़िर वो बच्ची नही थी. उन्होने कहा फ्रिज से पानी की बोतल निकाल दो मैंने जल्दी से बोतल निकाल कर दी और किचन से बाहर आ गया मैं बहुत शर्मिन्दगी महसूस कर रहा था.
फिर एक दिन टी.वी देखते हुये मेरा लंड खड़ा हो गया उस वक़्त अम्मी जी बिल्कुल मेरे साथ बेठी हुई थी और मैंने क्योकी ट्राउज़र पहना हुआ था और उस में से खड़ा लंड साफ नज़र आता है मैंने हाथ से छुपाने की बड़ी कोशिश की लेकिन अम्मी जी की नज़र पड़ गयी. और उन्होने मुझसे कोई बात किये बिना टी.वी बन्द किया और उठ कर चली गयी इससे मुझे अंदाज़ा हो गया की उन्होने कुछ देखा है. एक दिन रेहाना मुझसे शरारत कर रही थी की मेरा हाथ उसके पेट पर लगा तो पहली बार मैंने उसके लिये कुछ महसुस किया लेकिन मैंने इस ख्याल को ये सोच कर छोड़ दिया की वो मेरी बहन है. अब मैं भी नोट कर रहा था की अम्मी जी अब मुझ पर नज़र रखती थी और मेरी हरकत नोट कर रही थी. यह गर्मियो के दिन थे और सख़्त गर्मी पड़ रही थी. अम्मी जी किचन मैं दोपहर के लिये खाना बना रही थी की मैं किचन मैं गया लेकिन अम्मी जी की तरफ देख कर एक़दम मुझे झटका लगा वो पसीने मैं नहा रही थी और उनके पूरे कपड़े गीले हो कर जिस्म से चिपके हुये थे जिसकी वजह से उनके जिस्म का पूरा दीदार हो रहा था। मैं जल्दी से किचन से बाहर आ गया मैं अम्मी जी को ऐसे नही देखना चाहता था लेकिन मेरे दिमाग मैं कोई गलत ख्याल नही आया था क्योकी मैं ऐसा सोच भी नही सकता अपनी अम्मी जी के बारे मैं.
इसी तरह दिन गुज़रते रहे और कोई छोटी मोटी बात बीच मैं हो जाती. जेसे एक दिन दोपहर मैं बिजली चली गयी उस दिन बहुत तेज की गर्मी थी हर तरफ़ से पसीना बह रहा था. अम्मी जी बार बार कह रही थी उफ़ यह गर्मी तो आज जान ले लेगी. अरे शाहिद बेटा तुम तो शर्ट उतार दो. अच्छा अम्मी जी और मैंने अपनी शर्ट उतार दी खैर अम्मी जी नहाने चली गयी थोड़ी देर बाद उन्होने बाथरूम से आवाज़ दी शाहिद मुझे टावल तो देना मैं ले जाना भूल गयी हूँ. मैं उन्हे टावल देने गया तो उन्होने बाथरूम मैं से अपना हाथ बाहर निकाला जिस पर साबुन लगा हुआ था और मुझसे टावल ले लिया. उस दिन रात को अम्मी जी ने मुझे अपने कमरे मैं बुलाया और कहा बेटा ज़रा मेरी टाँगे और हाथ दबा दो आज मैं बहुत थक गयी हूँ. मुझसे नही होता अम्मी जी आप रेहाना को कहीये ना. नही बेटा वो सो गयी है उसे सुबह स्कूल जाना होता है, चलो यहाँ आओ काम चोरी ना किया करो.
अम्मी जी एक तो आप भी ना हर वक़्त तंग करती रहा करिये. और मैं बेड पर बेठ कर उनकी टाँगे और हाथ दबाने लगा. शाहिद थोड़ा ज़ोर से दबाओ. अम्मी जी मुझसे तो ऐसे ही दबता है नही दबवाना तो ठीक है. अच्छा तू ज्यादा बाते ना कर और दबा. यह मेरी सलवार को थोड़ा थोड़ा उपर कर ले और अम्मी जी ने अपनी कमीज के बाज़ू भी कोहनियो तक उपर कर लिये और मैंने उनकी शलवार को भी थोडे ऊपर कर दिया और उनके मोटे मोटे बाज़ू और टाँगे दबाने लगा. थोरी देर बाद अम्मी जी ने कहा अब बस करो और सो जाओ बहुत देर हो गयी है. मैं सोने जाने लगा तो वो बोली चलो आज यहीं सो जाओ. मैंने कहा जी लेकिन मुझको अपने कमरे मैं सोना है. शाहिद कभी बात मान भी लिया करो वेसे भी मुझे तुम से कुछ बात करनी है. मैंने थोड़े गुस्से और लापरवाही से कहा अच्छा इधर ही सो जाता हूँ. और मैं अम्मी जी के साथ उनके डबल बेड पर लेट गया.
अम्मी बोली : शाहिद तुम्हारी शादी कर दूं.
शाहिद : आज आप को मेरी शादी का ख्याल कहाँ से आ गया वो भी इस वक़्त.
अम्मी जी : बस आ गया क्यो तुम को शादी नही करनी
शाहिद : जी करनी तो है पर इतनी जल्दी नहीं.
अम्मी जी : अच्छा तो यह जल्दी है. तुम 18 साल के हो गये हो. और वेसे भी मैंने कुछ दिनो से महसुस किया है की अब तुम्हारी शादी कर देनी चाहिये.

यह कहानी भी पड़े  हवालात मे चुदाई

Pages: 1 2 3 4

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


antarvasna suhagrat chudai dobara manaiमजबूरी में बनी रखेल और चुदाईmalkin ki chudaihttps://buyprednisone.ru/sexy-didi-ki-chudai-sex-kahani/https://buyprednisone.ru/jo-dard-hona-tha-ho-gaya-2/2/Jawan chut ki kasakकामोन्माद चुदाईमाँ की सेकसी कथाएहहह उम्म्ह सेक्स स्टोरीmaa ne apne bete ka land khda dekh ke muth mardi Sex chut aaa 2Xxx xxxMakan Malkin ne kiraedar se chuday kahaniगरमा गरम मराठी सेक्स कथासेक्सी कहानी हिंदी में 2018 उरमिला चाची की अनतरवासनादिवीया.sex.porngaidanchoi.xx रात में बहन के कमरे में घुस के चोदने का पोर्न वीडियोलंडkhidki ke samne peshab kar raha tha.hindi sex storyदीदी के हाथ में मेरा वीर्यविडो माँ सेक्स कहानी हिंदीमाँ मालीस सेकस विडीवो हिँदिwww.indianreal kamak porn story badi didi ke chuddi hindi maअनकंट्रोल सेक्सीय माँ स्टोरीय सेक्स वीडियोचुत नंगी लंड डलवातेचुसवाते हुए मदहोश होती जा रही थीजवान बेटी राज शर्मा की कहानीTenish bhol sex xxx v comमेरी चाहत, मेरी फ़ुफ़ेरी बहन की शादी में part 2papa ki pari chud gai xxx kahnisex story ma or didi or biwi or khet majdur parivar.comटूशन टीचर को बारिश म छोड़ाmami ke sath bathroom mein sex storyपेटिकोट ऊठाकर चुत की चुदाईमौसी थोड़ा ऊपर बैठी थी जिससे उसकी चूत से निकली पेशाब की धार दिखाई दे रही थीसेक्स माँ से ऑनलाइन चीटिंग चुदाई सेक्स कहनीचूत वालीchudasi auntiyan storyOxssip incest story.comपति बदल कर चुदाई कीभीगे कपड़ों में लड़की की चुदाई सेक्स स्टोरीबीवी थी गैर मर्द के बाहों में chudaiबेताब जवानी सेक्सी स्टोरीचाची को चोदा सेक्स स्टोरीrkh,tahi,chilana,xnxxcomईशका मालकीन चुदाई कहानीdidi chudi awara ladko seaसलमा कि चुदाईचुदयि।हिनदी।विडीयोसदी के बाद में दीदी को सोते स्पर्म अंदर पेलाहिंदी सेक्स स्टोरीज सबने मिलकर छोड़ाXXX SHCHI TAUR VIDEO COM चुतMummy ke najayaj sambandh antarvasnaचूतchoti bhan ko choda srdiyo meXxx.nngifoto.damera kamuk badan aur atrupt yuwan sex storyoffice ka sacha pyar antarvasnaस्तन मर्दन की कहानीAngdhai sex storijBibi ki garm saheli Ko bade lund se choda hindi kahani antrvasnaएक अनोखा संयोग 2 sex stories सेक्सी टीटी की कहानीhedin saschodaiजवानी की चूत की फोटोहस्बैंड स्वैपिंग की चुदाई की कहानियाँ हिंदीमाँ और फूफा जी हिंदी सेक्स स्टोरीशिला आंटी की चुदाईहनीमून चुदाई कहानी हिंदीSomyadidi ko sex kya Hindi storydost ki bibi pradnya ki chudai sex story