पेंटिंग्स बनाने आई लड़कियो की कामुकता

मेरा शीना और जोई के साथ काम पूरा हो गया. मैंने उन दोनों को आसपास के जंगलों की सैर का सुझाव दिया. दोनों ही मान गई. मैं करिश्मा को बिन बताये दोनों के साथ जीप और कुछ जरुरी सामान लेकर निकल पड़ा.

हमने एक पुराने किले में अपना तम्बू लगा दिया. जोई शीना और मैं उस तम्बू में बंद हो गए. जोई तो जैसे सेक्स के लिए तड़प रही थी. वो अपने कपडे उतारकर मुझे ऐसी चिपटी कि मैं और शीना उसे देखते रह गए. उसने मेरे लिंग को अपने जानांग में इस कदर फंसाया कि उसकी ऊम्र सत्रह साल की है शक होने लगा. जोई ने मेरे लिंग को करीब एक घंटे के बाद छोड़ा. इसके बाद शीना की बारी थी. शीना ने भी एक घंटे तक मेरे साथ सेक्स किया. फिर हम घुमे. शाम को एक बाद फिर हमने खुले में ही सेक्स किया. हरी घास को ही बिस्तर बना लिया. रात को भी तम्बू में हम तीनों ने एक साथ सेक्स किया. सवेरे पास एक पहाड़ी नदी में हम नहाने चले गए. जोई ने उसी नदी में मेरे साथ पानी के अन्दर सेक्स किया. पानी की तेज बहती धर में सेक्स करने का एक अलग ही मजा आया. दोपहर को खाने के बाद हम तीनों बिना कपड़ों के ही घास पर लेट गए.

करिश्मा ने सोमा के साथ मिलकर हमें बहुत खोजा लेकिन हम नहीं मिले. शाम के करीब चार बजे थे. मैं अपनी जीप को अब हमारे शहर से थोड़ी दूर एक छोटे पहाड़ी कसबे की तरफ मोड़ लिया. इस कसबे में हमारा एक खानदानी कोठी है. मैंने शीना और जोई से जब यह बताया तो उन दोनों ने ख़ुशी समुझे चूमते हुए कहा कि अगले दो दिन हम यहीं रुक जाएँ तो बेहतर होगा. मैं भी तैयार हो गया. देर शाम को हम वहाँ पहुँच गए. अंधरा हो चला था. इस गाँव में बिजली नहीं थी. हर तरफ केवल अँधेरा. अँधेरे का लाभ उठाकर शीना और जोई आपस में खेलने लगी. एक दूसरे के शरीर के जिस्म को चुटी या गुदगुदी करती और भाग जाती. धीरे धीरे उन्होंने एक दूसरे के कपडे भी उतार दिए. अब वे दोनों केवल ब्रा और पैंटी में ही रह गई थी. खुले बरामदे में दो लालटेनें जल रही थी. उसकी रौशनी में दोनों के जिस्म सोने जैसे चमक रहे थे. अब उन दोनों ने मुझे भी इस खेल में शामिल कर लिया और मेरे भी कपडे खोल दिए.

यह कहानी भी पड़े  पड़ोस के ताऊ जी ने की गरमा गर्म चुदाई

उस बरामदे में एक झुला टंगा हुआ था. झुला क्या था एक पूरा पलंग था. आपस में चिपट कर सोये तो तीन जाने समा जाए. मैं शीना को लेकर झूले में आ गया. जोई हवा का मजा लेने लगी और इधर मैं और शीना सभी कपडे उतारकर संभोग में लिप्त हो गए. गाँव का शुद्ध वातावरण और ठंडी हवा में एक अलग ही मजा आ रहा था. जोई ने जब देखा कि मैं और शीना काफी कर चुके तो उसने शीना को मुझे छुड़ाने की कोशिश करते हुए कहा ” अब मेरी बारी है. तुम दोबारा रात को आजाना.”

अब जोई मेरे साथ थी. शीना उस झूले से उतरी नहीं बालक हम दोनों को एकदम करीब से देखने लगी. कभी कभी वो अपने हाथ को मेरे लिंग और जोई के जननांग के बीच में ले आती और हम दोनों को गुदगुदी कर एक अलग मजा देने लग जाती. जब हम सभी थक गए तो तीनों आपस में लिपट कर सो गए. कुछ देर के बाद किसी के आने की आहट सुनाई देने लगी. मैंने नौकर को ऊपर आने से मना कर रखा था. तो फिर कौन हो सकता है. मुझे अचानक ऐसा लगा कि करिश्मा पहुँच गई है. हम तीनों ने जल्दी जल्दी अपने कपडे पहन लिए. मेरा शक्साही निकला. वो करिश्मा ही निकली. सोमा भी उसके साथ थी. मैं चौंक गया. मरिश्मा शीना के करीब गई. उसने शीना को गुस्से से देखा और बोली ” तुम और ये पहाड़ी बिल्ली कल सवेरा होने के बाद यहाँ से निकल जाना नहीं तो मुझसे बुरा कोई नहीं होगा. ” मैंने करिश्मा से कहा ” तुम इन्हें नहीं निकाल सकती. ये मेरी मेहमान है.” करिश्मा मेरे सामने आ गई. उसने फुफकारते हुए कहा ” मैं रात को यहीं रुकने वाली हूँ. देखती हूँ तुम इन दोनों को कैसे रोकते हो”

यह कहानी भी पड़े  वॉशरूम मे चोदि मेरी चूत

इस बार तो करिश्मा के इस गुस्से से मैं भी पहली बार डर गया था. शीना और जोई उदास हो गई. हम तीनों की रात जो खराब हो गई थी. अब हम पाँचों एक ही बरामदे में बैठे थे. सभी खामोश थे. एक गहरा सन्नाटा था. रात को हमने खाना खाया. रात को हम सभी सोने चले गए. शीना और जोई एक कमरे में; सोमा और करिश्मा दूसरे कमरे में; तीसरे और अंतिम कमरे में मैं अकेला.

आधी रात को जोई हिम्मत कर मेरे पास आ गई. शीना तो करिश्मा से ऐसा दरी कि खाने के बाद तुरंत वो गहरी नींद में सो गई.

Pages: 1 2 3 4 5

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


मेरी चूत फट गयी आहmajor sahb deenu pani kitchenआम दाब xxxकामुकता.कथाchocolate khilake maa ko choda xxx story Hindiखामैस चुदाई की कहानीयाChoot chudai ragadkr xvdoUsha ki bhabi ko ptakr choda storyBur ke chhed me Land Ghusakar maza Marane ki kahaniBhen kapde chenj xxx videobhabhi अपनी करवट बदल ली कि अबjabardasti chut dhla Mom ko xxx videoPuchit land new hindi kathastore sex बहाना बनालंड बच्चेदानी से टकरायाचूतड़ों की दरारJawan chut ki kasak मजेदार तूफानी चुदाई कहानी हिन्दीसहेली के पति से सेक्स कहानियांdidi mutane lagimere stress ko brte ne mitaaya chudai storyचोदनऋतु पर खुला चुदाईMere parivar ke kachche aam sex storykahani xxx gand chiknaअकेले घर में पड़ोस की लड़की को बहाने Sex storyjab bur me mal chuta hai Aysha xxx video Nadan,sex,storiचोदा चोदीबरसात मे मा के साथ सेक्स कहानीबेटी की गुदा छेद मे जीभ sex storykhet me nahate xxx khani hindi maa ki iska meaunty boli land dekh ke teri mom darati anter vasnahotal me choda vigora deke maa koचुदाई स्टोरीमेरे लंड में आइसक्रीम लगाचूतचूतभाई ने बहन और उसकी सहेली की कुँवारी बुर और गाड़ पेल कर फाड़ दिया sexkhaniya hindi rishto mainbua ki chudai kahaniबीबी और उसकी सहेली की चुदाई की स्टोरीजpayal ki chudai samuhikमैं दीवानी चुदाईsamdhi ne samdhan ko choda Hindi sex storiesबीबी और उसकी सहेली की चुदाई की कहानीमेरी नँगी लंड की मालिषXxx.nngifoto.dasexy bhabi ko bathroom me nangi panty utari khani हिंदी सेक्स स्टोरी नाभि के नीचे स्कर्टgeetha की चूतmajdor ka land chusa hindi sex storyमेरे बुर को चोद कर प्यास बुझाईसामूहिक merivasnawww.shadi mai ludhiana bali punjabn aunty ki chudai khani.inबूढ़ी नौकरानी के साथ चुदाई की कहानियांLarki ko kaha chune se sex karne ke liye taiyar ho jayengemom ke liye bra kharidi sex storyjahaaz k ander chudayi.Maa ki iccha bete ne puri kiएक घर की चुदाई कहानी – 1 • Hindi Sex storo part 7हिंदी सेक्स कहानी घर की auratu की chuadiतन मन सेक्स की गंदी स्टोरीचुदवाईdoctor ke pas gaya की चुदाई कहानियाँ .comकालीचुत लँडछोटी बेहन को चुदाई सीखाई कहानीशेकश कदी नवीन बिबिMaire phuphi land ki pyasseChachi ko bhuse me choda khet hindi chudai kahaniका नाड़ा खोल सेक्स स्टोरीजNew sachey sexy kahani sasur and bahuबीबी और उसकी सहेली की चुदाई की कहानीभाभी के बुर का स्वाद कहानीKomal na apana bahi sa cudvaya xxx kahanisexxxx muhbme le आँखों से कोसों दूर थी। अचानक अरूण ने मेरी ओर करवट ली और बोले, “पानी दोगी क्या, प्यास लगी है !” मैं उठी और अरूण के लिये पानी लेने चली गई। वापस आई तो अरूण जग चुके थे और मेरे हाथ से पानी लेकर पीने के बाद मुझे खींचकर फिर से अपने पास बैठा लिया और अपना सिर मेरी गोदी में रखकर लेट गये। मैं उनके बालों को सहलाने लगी, मैंने देखा उनका लिंग मूर्छा से बाहर आने लगा था उसमें हल्की हलपेटिकोट बरा पर नहातै समय की फोटोhum open minded hai chudai ke liyeचुदाई की कहानियांताई की सेक्स कहानीMuslim sakeera bhabhi ko khat ma choda hindi storyचुद गई पापा की परीभाभी और मेरी अंतरवासनाwww.sexykahnibhbhi