मम्मी मैं आदमी वाला काम करूंगा तेरे साथ–1

मैं उत्तर भारत में एक जमींदार परिवार का हूं. हमारी बहुत बड़ी खेती है. हमारे परिवार में सभी मर्द और औरतें अच्छे ऊंचे पूरे हैं. हमारे परिवार में मेरी मां, मामाजी, मैं और मेरी छोटी बहन प्रीति है. पिताजी बचपन में ही गुजर गये थे, तब से हम लोग मामाजी के साथ रहते हैं. मामाजी भी अकेले हैं, शादी नहीं की.

घर के काम के अलावा मेरी मां खेतों में भी काम करती है इसलिये उसका शरीर बड़ा तंदुरुस्त और गठा हुआ है. उसका अच्छा कसा हुआ पेट है, लंबी लंबी मजबूत टांगें हैं और बड़े बड़े चौड़े कूल्हे हैं. मम्मे तो अच्छे भरावदार और मोटे हैं.

जब मैंने अम्मा के सजीले बदन को एक मर्द की निगाह से देखना शुरू किया तब मैं उन्नीस बरस का था. अपनी मां को मैं बहुत प्यार करता था और उसके रूप को अपनी जांघों और बांहों में भर लेना चाहता था. हमारा घर खेतों के बीच था और चारों ओर ऊंची दीवालें थीं जिससे कोई अंदर ना देख सके. इसलिये मां और प्रीति गरमी के मौसम में ज्यादा कपड़े पहने बिना ही घूमतीं थीं. बारीक कपड़े पहनकर दोनों बिना ब्रेसियर या जांघिये के ही रहती थीं.

मेरी अम्मा का शरीर काफ़ी मांसल और भरा पूरा है और वह बड़ी टाइट और बारीक कपड़े की सलवार कमीज़ पहनती है. जब मां गरमी में रसोई में बैठ कर खाना बनाती थी, तब मुझे मां के सामने बैठ कर उसकी ओर देखना बहुत अच्छा लगता था. अम्मा बिलकुल पतले टाइट पारदर्शक कपड़ों में चूल्हे के सामने बैठ जाती थी. गरमी से उसे जल्द ही खूब पसीना छूटने लगता था. मां की बड़ी बड़ी चूंचियां उसकी लो कट की कमीज के ऊपर उभर आतीं थीं. पसीने से भीगी कमीज में से उसके मांसल स्तन साफ़ दिखने लगते थे.

यह कहानी भी पड़े  नौकरी बचाने के लिए माँ को चुदवाया

मैं नजर गड़ा कर पसीने की बहती धारों को देखता था जो उसके गले से चूंचियों के बीच की गहरी खाई में बहने लगती थीं. अब तक पसीने से गीले बारीक कपड़े में से उसके उभरे हुए निपल भी दिखने लगते थे और मां के मतवाले उरोजों का पूरा दर्शन मुझे होने लगता था. पहले अम्मा मुझे इस गरमी में बैठने के लिये डांटती थी पर मैं उसे प्यार से कहता. “मम्मी जब आप इतनी गर्मी में बैठ सकती हैं हमारे लिये, तो मैं भी आपकी गर्मी में पूरा साथ दूंगा”.

मां इस बात पर मुस्कराकर बोलती “बेटा मैं तो गरम हो ही गई हूं, मेरे साथ तू भी गरम हो जायेगा”. अब असली नाटक शुरू होता था. मां मेरी ओर बड़े प्यार से देखते हुए कहती “देख कितना पसीना आ गया है” और अपनी कमीज का किनारा उठाकर मुझे वह अपना पसीने से तरबतर थोड़ा फ़ूला हुआ नरम नरम पेट दिखाती.

वह एक पटे पर पिशाब करने के अंदाज़ में अपनी जांघें खोल कर बैठती और फ़टाफ़ट चपाती बनाती जाती. मैं सीधा उसके सामने बैठ कर उसकी जांघों के बाच टक लगा कर देखता था. मेरी नजर खुद पर देख कर अम्मा अपना हाथ पीछे चूतड़ पर रखकर अपनी सलवार खींचती जिससे टाइट होकर वह सलवार उसकी मस्त फ़ूली फ़ुद्दी पर सट कर चिपक जाती.

अम्मा की फ़ुद्दी कमेशा साफ़ रहती थी और झांटें न होने से सलवार उस चिकनी बुर पर ऐसी चिपकती थी कि फ़ुद्दी के बीच की गहरी लकीर साफ़ दिखती थी. उसके पेट से बह के पसीना जब फ़ुद्दी पर का कपड़ा गीला करता तो उस पारदर्शक कपड़े में से मुझे मां की बुर साफ़ दिखती. उसका खड़ा बाहर निकला क्लिटोरिस भी मुझे साफ़ दिखता और मैं नजर जमा कर सिर्फ़ वहीं देखता रहता.

यह कहानी भी पड़े  Bangalan Bhabhi Ki Yaun Santushti Ki Chahat poori Hui- Part 2

अब तक मां की चूत में से चिपचिपा पानी निकलने लगता था और वह उत्तेजित हो जाती थी. बुर की महक से मेरा सिर घूमने लगता. हम दुहरे अर्थ की बातें करने लगते थे. मम्मी मेरी प्लेट पर एक चपाती रख कर पूछतीं “बेटा तेल लगा के दूं?”. मैं कहता “मम्मी बिना तेल की ही ले लूंगा, तू दे तो”. रात को यह बातें याद करके मैं बिस्तर में बैठ कर अपना लंड हाथ में लेकर मां के बारे में सोचता और उसकी चूत चोदने की कल्पना करते हुए मुठ्ठ मारता.

अब मैं असली बात बताता हूं कि हमारा आपस का कामकर्म कैसे शुरू हुआ. मामाजी बीज खरीदने को बाहर गये थे, करीब एक हफ़्ते के लिये. वैसे पहले भी मामाजी ऐसे जाते थे पर इस बार पहली बार मैंने गौर किया कि एक दो दिन में ही मां छटपटाने सी लगी. गायें जैसी गरम हो कर करती हैं बस वैसा ही बर्ताव मां का हो गया. एक छोटे खेत की जुताई बची थी. सुबह मैंने मां से कहा “मम्मी मैं वह छोटा खेत जोत के आता हूं”. मां बोली “बेटा, अभी तो बहुत गर्मी होती है, वहां कोई भी तो नहीं आता है, आज कल तो कोई भी खेतों में नहीं जाता है, पूरा वीराना होगा.”

मैंने उसके बोलने की तरफ़ ध्यान नहीं दिया और ट्रैक्टर तैयार करने लगा. जब मैं निकलने ही वाला था तो अम्मा ने पीछे से कहा “बेटा मैं दोपहर का खाना ले के आऊंगी”. मैं बोला “ठीक है मम्मी पर देर मत करना”. मैं फ़िर खेतों पर निकल गया.

Pages: 1 2 3 4 5 6

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


Bhen kapde chenj xxx videoAntervashna Bus me ladaki ko god me bithake chodalamba mota land ka romantik xxxncomKasmakas antarvasnaचोदा चोदी की फोटोआआआआहह।maptram.dot.comWWW आम SAXY story.comकामवाली को चुदाtau ji mammy ki saxy storymeena boobsantervasna dot comGoa antarvasnaलंड पे मंगलसूत्र लपेट के चूसMaire phuphi land ki pyasseमाँ की चुदाई पडोस के पत्ती के दोस्त सेनदी किनारे सेक्स स्टोरी हिन्दी रात में बहन के कमरे में घुस के चोदने का पोर्न वीडियोताई को पेशाब करते देखा सेक्सी स्टोरीमां को बेटे से चुदाने की इच्छा हिंदी सेक्स स्टोरीmummy aur mummy ki beti ki jhhat banai hindi sex kahaniawww xxx veedio handi bhabhi ki chudaiAntarvasna aunty dekh ke xossipantarvasna taiचूची सहायताAafrin ki gand Mari in Hindi xxx sex storyकमला kake ke chudae की कहानी दो लंड एक साथ कहानीHindi sexkhaniya momsचोदने बाले बीडिओबहन का बुर चिर दियाभाभी को पटककर जबरदस्ती चोदाई कीमम्मी पापा से चुदकरकरवा चौथ पे usha chachi chudai ki khaniअनोखी पोर्न कहानीकोमल मेरी हस्तमैथुन करने की स्टोरीक्सक्सक्स विडोज़ इन हिंदी ससुर बहु पति संग ग्रुप चुड़ै इनantarvasna tai giftneharani ki chudai storyMalaren chut pronपहाड़ चुदाई कहानीmultinational companies sir ki antarvasnaचुतचुदाई.गानाpoti antarvasnaछत पर चूदाईप्रताड़ित चुदाई की कहानीजवानी की चूत की फोटोसेक्सी स्टोरी बहन भाई एक ही कमरे मेmasag palar vale kee antrvasnaअपनी शर्ट में छोड़ाहलकि किचुदाइphimpim tvsexsex stories hindime nokari chudai ki sas bahu betiyo or kamvaliसपना का बदला 2 sxsi khaniyaभोषडे की ललकनया यौवन सेक्स कहानियाँVideshi ladki ki gaand chaati aur shit khai storyलंड की भूखी मेंbhabhi अपनी करवट बदल ली कि अबbewafa chachi ki kahanibiwi ne janbujh ke panty utariDushman चुदाईससुर और बहु की कामवासना और चुदाई 8sikandar and lovely ki chudai xxx kahanimumbai ki barish aor ma bete ka pyaar xxx kahanibehan bani frind ka gift gangbang sex storyXxxnnxxx मम्मी के सामनेमस्त माँ हिन्दी कहानियाँदीदी की गौरी मोटी गांड मेरा मोटा लण्ड खड़ा हो गयाdud dhikhake lund chusa sex kahaniyaआंटी की चूतphim sex pham bang bangबेटी की घमासान की चुदाई की कहानीमूतती बुर बहन कीsaxvauntyहिंदी सेक्स स्टोरी स्कर्ट और पतली पैंटीअंधे से hindi sex storiessaheli ki mummy badi nikammibachpan ma ak साथ में ही नाहते थे। antarvasnaचुत कहानीयास्मीन की चूत मरीबस मै मज़े दिएहिंदी सेक्स स्टोरी हरामी ने छोड़ा