मिनी का वीडियो

मैं रजत एक हृष्ट-पुष्ट लड़का हूँ, मेरी उम्र साढ़े उन्नीस की वर्ष है। मैं दिल्ली का रहने वाला हूँ और आज आप सबको अपने जीवन का एक ऐसा सच बताने वाला हूँ जिसे अधिकतर सब गुप्त ही रखते है। पाठकों को मैं यह बताना चाहूँगा कि इस लेख की रचना तो मैंने ज़रूर की है लेकिन मेरी बहन मीनाक्षी ने ही मेरी इस कहानी को संपादित किया है और वही इस कहानी की प्रेषिका भी है। मैं अपनी इस रचना को अपनी बहन मीनाक्षी को समर्पित कर रहा हूँ क्योंकि वह ही इसकी असली हकदार है।

यह घटना लगभग पाँच माह पहले की है जब गर्मियों की छुट्टियाँ शुरू ही हुई थी और एक महीने की छुट्टियों पर मेरी इक्कीस साल की बहन मीनाक्षी (मिनी) हॉस्टल से घर आई हुई थी। मिनी दिल्ली के एक मेडिकल कॉलेज में ऍम बी बी एस के तीसरे वर्ष की छात्रा है, वह मुझे से लगभग डेढ़ वर्ष बड़ी है लेकिन फिर भी अभी तक हम दोनों की एक दूसरे से बिल्कुल नहीं बनती थी, हम दोनों हर वक्त दो छोटे बच्चों की तरह एक दूसरे लड़ते झगड़ते और मार-पीट करते रहते थे।

क्योंकि मिनी के लड़की होने के नाते और घर से दूर हॉस्टल में रहने के कारण मेरे माँ और पापा, हमेशा उसका पक्ष ही लेते थे और उसे नहीं बल्कि हमेशा मुझे ही डांट देते थे, इसी कारण मैं हमेशा मिनी से बदला लेने की फिराक में रहता था और उसकी कोई न कोई कमजोरी ढूँढने में लगा रहता था लेकिन वह बहुत ही चालाक थी और मेरे को किसी बात का भी पता नहीं लगने देती थी।

मिनी को घर आये दूसरी रात ही हुई थी जब यह घटना घटित हुई जिसने हमारी लड़ाई झगडों को दूर कर हम दोनों के बीच में एक अटूट प्रेम की नींव डाल दी जो आज भी कायम है।

यह कहानी भी पड़े  किरण शादी एक गाण्डू लौंडे से हो गई

उस रात को बारह बज चुके थे, घर में सब सो रहे थे, अचानक हाल में से फ्रिज का दरवाज़ा बंद होने की आवाज़ से मेरी नींद खुल गई। मैंने उठ कर हाल में जाकर देखा लेकिन वहाँ किसी को भी नहीं पाया। मैंने घर के सामने और पीछे के दरवाज़ों का निरीक्षण किया और उन्हें भी बंद पाया। इसी असमंजस में कि वह आवाज़ किसने की होगी, मैं अपने सिर खुजलाता हुआ अपने कमरे की ओर चल दिया। जब मैंने माँ और पापा के कमरे के बाहर खड़े होकर उनकी आहट सुनने के चेष्टा की तो पापा के खर्राटे सुनाई दिए। तब मैंने मिनी के कमरे के बाहर खड़े होकर आहट सुनने की कोशिश की लेकिन मुझे कुछ ठीक से सुनाई ही नहीं दिया। आखिर में जब मैं अपने कमरे की तरफ बढ़ने लगा तभी मुझे मिनी के दरवाज़े के नीचे से बाहर आती हुई रोशनी पर नजर पड़ी तो मेरे पाँव वहीं रुक गये।

जैसे ही मैंने दरवाज़े को हाथ लगाया तो उसे खुला हुआ पाया और मेरा हाथ लगते ही वह थोड़ा सा खुल भी गया। मैंने दरवाज़ा को हल्का सा धकेल कर थोड़ा और खोल कर अंदर झाँका तो दंग रह गया !

मैंने देखा कि मिनी अपने बिस्तर पर बिल्कुल नग्न, दोनों टांगें चौड़ी कर के लेटी हुई थी और उसके हाथ में एक आठ इंच लंबा और डेढ़ इंच मोटा बैंगन था जिस पर वह कंडोम चढ़ा कर अपनी चूत के अंदर बाहर कर रही थी !

यह सब देख कर मैं मन ही मन बहुत खुश हुआ कि अब मुझे मिनी से बदला लेने का मौका मिल गया था। मैं भाग कर अपने कमरे में गया और अपना हैंडी-कैम ले आया और उस थोड़े से खुले दरवाज़े में से मिनी के उस करतूत की वीडियो बनाने लगा। वीडियो बनाते समय मैंने कुछ दूर के और कुछ क्लोज-अप नज़ारे भी रिकार्ड किये। क्लोज-अप सीन में जो मैंने देखा था उससे हुई उत्तेजना के कारण मेरा साढ़े सात इंच लंबा और दो इंच मोटा लौड़ा एकदम तन गया था। मैं मिनी के गुप्तांगों को पहली बार देख रहा था इसलिए उत्तेजित होना तो स्वभाविक था, लेकिन उस समय मेरे मन में आ रहे विचारों का उस उत्तेजना में ज्यादा सहयोग था।

यह कहानी भी पड़े  वो खाली दुकान और चार चार मीठे पकवान –2

लगभग बीस मिनट तक मैं मिनी का वीडियो बनाता रहा और जब उसने बैंगन निकल कर एक तरफ़ रख दिया और चादर औढ़ कर बैड-स्विच से लाईट बंद करने लगी तब मैं वहाँ से हट गया।

उसके बाद मैंने अपने कमरे में जाकर उस वीडियो को अपने लैपटॉप में डाउनलोड किया और उस वीडियो को तीन सी.डी. में भी रिकॉर्ड कर दी। दो सी.डी. तो मैंने अपनी अलमारी के लॉकर में छुपा कर रख दीं और एक सी.डी. को मैंने अपनी मेज़ के दराज़ में रख दिया। इसके बाद मैंने उस वीडियो को दो बार चला कर देखा और बढ़िया क्लोज-अप सीन देख कर इतना उत्तेजित हुआ कि दो बार मुठ भी मार ली। वीडियो बहुत ही बढ़िया बनी थी, बिल्कुल इंटरनेट में दिखने वाली वीडियो की तरह थी। मैं यह सोच कर रोमांचित हो रहा था कि जब यह वीडियो मिनी देखेगी तो उसकी क्या प्रतिक्रिया होगी।

Pages: 1 2 3 4 5

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


ma ko rula diya chodkar bete ne xxx storijawanladkichootचोदीपत्नी समज के छोटी बहन की चुदाई स्टोरीबुर से पानी निकलते देखाभाभीचुत मे लाँडxxx चोदाईछूट को कैसे सहलायेwww.xnxx.com.yidaoMajburi Mai mujhe chudna pada antarvasna storiesब्रा के कप्स मुझे साफ़ साफ़ नज़र आ रहे थे sex story in hindichoot me मक्खन डालनाबहन पापा से सामूहिक छुड़ाईShelia baap ki patani BNI chudaiचची की पेटीकोट का नाड़ामैं अपने गुदा में दर्द होता है जब मैं नए सिरे से हो रही हैसेकस कयाहैमौसी ने रंडी बनायाचुतकी झलक Hindi sex storiesphigar malis xnxxxmame ne didi ko chudwaya handi dipli pa chodi story xxx...एक दूजे के लिए सेक्स कहानीkhamu kata dot com bhai bhan ki khani handi maMummy ki bra ki hook lagakr chudai kiसुहागरात को बीवी को चोदभुआ की चुदाईBoy frend kee डिलडो से गाड मारी Antarvasnaमाँ को बेटा का इन्तजार चुदाई काaunty & uncal thulu dengu videosnaukrani ko Malmal ka lund Pasand AayaĐịt nhau trong bếpसविता भाभी की सचित्र सेक्स कहानीtaiji ki chudai viagra khila ke mere doodh ki tanki sex story hindiचोदाइXnxxxxxhot tether Sirsexy stori mommy ne tiren me gurup chudai ki xxxपहाड़ चुदाई कहानीगरमा गरम मराठी सेक्स कथाdidi,aur ma ki cudai gacchi parहिंदी सैक्स स्टोरी मा ने मेरे लोडे की मालिश कीमहिला lisban xnxxstoryचोदनाबुर सूज ठीक से चल कसी रगड़36lGRAHIKhet Porn maa choda kahaninancy ki xxx kahanikahani xxx gand chiknaनंगे चूचे चूसनाUsha ki bhabi ko ptakr choda storyताऊऔर मां कि चुदाई xxx vidos mammi ammrika मेरी बहन का रंडीपन सेक्स कहानीलंडचुत,भाई और बॉस हिंदी सेक्स पडोस की भाभी की मोटी गाड की मालिशमाँ को तेल मालिश चुदाई हिंदी कहानीमाँ की गोल गोल गाँडमेरे बुर को चोद कर प्यास बुझाईKasmakas antarvasnaMummy ki saheli ki chudai ki kahaniyaMuslim ka damdar lund chudaiसेक्सी रंडी की चुदाई ब्लू फिल्मपरिवार मेँ माँ पापा भाई बहिन की एकसाथ चूदाई की कहानियाँमहिला और सर का चुदाईमौसी को चोदने की इच्छासेक्स स्टोरी भाभी और प्यूनलुधियानाकी देशी चूत बिडियोरात भर लडकेने चुदाई किया खेतमे काहानिBhopurt sexci videobhahen ke sexi camale toe ki dekhakar cudai kiआनलाईन विडीयो सेक्सक्सक्सक्स विडोज़ इन हिंदी ससुर बहु पति संग ग्रुप चुड़ै इनलंडअन्तर्वासना सेक्सी सफर कहनिया ट्रैन मईGoan me randiyo ki buri tarah chudai storyचूत चोदने का मजासेक्सी कहानी हिंदी में 2018 चोदनाantervsna aunti or bhabhipiyasi bahan bhuki xxx choot mei botalचूत में लंडचुतकी सीलभाभी के बोबे दबाने का पहला मौका पार्ट २