मेरी सेक्सी कजन्स की हॉट चुदाई

बस उसी वक़्त मैंने बिजली की रफ्तार से एकदम से रश्मि को पीछे से बाहों में जकड़ लिया, मेरा लंड उसकी गाँड के सुराख पे लगा जिसे उसने वहीं पे भींच लिया।
मैंने उसे सीधा खड़ा किया, मेरे दोनों हाथ उसके दोनों बोबे पकड़े हुए थे, मैंने उसकी गर्दन पे किस किया, फिर कान के पास, फिर कान के नीचे जबड़े के पास अपनी जीभ से चाटा।
उसने अपने हाथ से मेरे बालों को सहलाया। मैंने अपने दोनों हाथ उसकी टी शर्ट के अंदर डाल कर उसके दोनों बोबे पकड़ लिए और बड़े प्यार से सहला सहला के दबाये।
उसकी साँसें तेज़ होने लगी, मैंने उसका मुँह घुमाया और उसके होंठों को अपने होंठों में कैद कर लिया। होंठों के बाद जीभें आपस में उलझ पड़ी।
फिर मैंने उसे घुमाया और उसका मुंह अपनी तरफ किया, इस बार हम दोनों ने एक दूसरे को बड़े ज़ोर से गले लगाया जैसे दोनों इसी दिन का इंतज़ार कर रहे हों।
मैंने अपना लंड रश्मि के हाथ में पकड़ा दिया और उसके दोनों निपल्लों को अपनी उँगलियों से मसला।
उसके मुँह से सिसकारी निकली।
‘अब सब्र नहीं होता, रश्मि, प्लीज़ मेरा लंड ले अपने अंदर ले ले!” मैंने कहा तो वो बोली- यहाँ नहीं कोई आ भी सकता है तेरे कमरे में चलते हैं।
मैंने बाथरूम की बत्ती बंद की और चुपके से रश्मि को लेकर अपने कमरे में आ गया। कमरे में डॉली सो रही थी, हम दोनों जाकर उसके साथ ही लेट गए।
लेट क्या गए बस लेटते ही एक मिनट में अपने अपने कपड़े उतार फेंके।
रश्मि ने अपनी टाँगें फैला कर मुझे अपने से सटा लिया और अपनी टाँगों का घेरा मेरी कमर के गिर्द कस दिया, फिर से होंठों से होंठ जुड़ गए।
मेरा लंड रश्मि के पेट से लगा था जिसे मैं उसके पेडू पे ही घिसा रहा था। रश्मि ने खुद मेरा लंड अपने हाथ में पकड़ा और अपनी चूत पे रख लिया।
मैंने जब थोड़ा ज़ोर लगाया तो जैसे ही मेरे लंड का सुपाड़ा उसकी चूत में घुसा उसके मुँह हल्की सी चीख निकल गई ‘हाई माँ…’
जब उसने कहा तो पास में सो रही डॉली भी उठ गई, उसने साइड पे पड़ा टेबल लेंप जलाया तो देखा के हम दोनों बिल्कुल नंगे आपस में गूँथे पड़े थे।
वो हैरान हो कर बोली- यह तुम क्या कर रहे हो?
मैंने एक बार और ज़ोर लगाया और अपना लंड रश्मि की चूत में और अंदर ठेलते हुये कहा- सेक्स…
और जैसे ही मैंने दूसरा धक्का मारा रश्मि के मुँह से एक और हल्की सी चीख ‘हाय मेरी माँ, मर गई मैं…’ निकल गई।
डॉली बोली- बीनू रहने दे भाई, रश्मि को दर्द हो रहा है।मगर मुझसे पहले ही रश्मि बोल पड़ी- चुप कर साली, दर्द नहीं मज़ा आ रहा है मज़ा, तू लगा रह यार।
अब तक तो मेरा पूरा लंड रश्मि की चूत में घुस चुका था। जब लंड पूरा अंदर चला गया तो मैंने लंड आगे पीछे करके रश्मि को चोदने लगा। हम दोनों एक दूसरे के होंठ चूसते, जीभ से जीभ लड़ाते प्यार कर रहे थे और पास लेटी डॉली ये सब देख रही थी।
मैंने देखाडॉली के छोटे छोटे बूब्स जो उसकी टी शर्ट में थे उनके निपल कड़े हो गए थे।
मैंने डॉली के आँखों में देखा और अपना हाथ बढ़ा कर मैंने उसका बूब पकड़ लिया। उसने कोई विरोध नहीं किया, शायद वो भी गरम हो चुकी थी।
रश्मि ने पूछा- यह क्या कर रहे हो?
मैंने कहा- देखो डॉली भी जवान है, उसका भी दिल कर रहा है, क्यों न उसे भी अपने जवानी के खेल में शामिल कर लें।
रश्मि ने डॉली की तरफ देखा, दोनों कुछ नहीं बोली तो मैंने डॉली को अपनी तरफ खींच लिया, पास खींच कर मैंने उसके होंठों पे अपने होंठ रख दिये।
वाह, क्या किस्मत थी मेरी भी, एक बहन की चूत में मेरा लंड और दूसरी बहन के होंठ मेरे होंठों में।
‘डॉली, तू भी अपने कपड़े उतार दे!’ मैंने कहा तो डॉली ने भी धीरे धीरे से अपने कपड़े उतारने शुरू किए, अब मुझे रश्मि में कोई खास इंटरेस्ट नहीं रह गया था, क्योंकि उसे तो मैं चोद चुका था।
मैंने खुद हेल्प करके डॉली को नंगी किया और उसके बाद उसे लेटा कर खुद उसके ऊपर लेट गया, उसके कच्चे कुँवारे बदन की महक ही अलग थी।
मैंने थोड़ी सी किसिंग की और उसके मासूम से छोटे छोटे स्तन चूसे, स्तन चूसने के बाद मैंने अपने लंड को उसकी चूत पे रखा।
रश्मि बोली- आराम से, वो छोटी है, अगर दर्द ज़्यादा हुआ तो निकाल लेना और मुझ से कर लेना, मगर इसका ख्याल रखना।
मैंने बड़े आज्ञाकारी की तरह हामी भरी और डॉली के होंठ अपने होंठों में अच्छी तरह से पकड़ने के बाद, यह पक्का करके कि अगर इसके मुँह से चीख निकली तो उसे मैं अपने मुँह में ही समा लूँगा, मैंने लंड पे ज़ोर बढ़ाया।
बेशक मैंने आराम से डाला मगर कुँवारी लड़की को तो तकलीफ होती ही है। मैंने उसके होंठों को अपने होंठों में भींच के रखा और लंड को अंदर धकेल दिया।
वो तड़प उठी, मगर मैंने उसे बहुत मजबूती से पकड़ा था, रश्मि को भी लगा के डॉली को बहुत दर्द हो रहा था, उसने मुझसे कहा भी- रहने दे बीनू, उसे दर्द हो रहा है।
मगर मैं कुँवारी चूत को फाड़ने का सुख कैसे छोड़ देता। और कुछ नहीं तो ये तो बस मेरी मर्दानगी, मेरे अहंकार की संतुष्टि थी। बिना उसके दर्द की परवाह किए मैंने अपना पूरा लंड उसकी छोटी सी चूत में उतार दिया।
उसके मुँह से चीख तो न निकल सकी मगर उसकी आँखों से आँसू निकल पड़े।
अब तो रश्मि भी गुस्सा हो गई- क्या कर रहा है यार, देख उसको कितना दर्द हो रहा, निकाल बाहर।
मैंने भी मौके की नज़ाकत को समझते हुये, अपना लंड बाहर निकाल लिया। डॉली ने अपने दोनों हाथों से अपनी चूत पकड़ी और करवट ले कर लेट गई, और रोने लगी, रश्मि उसे चुप करवाने लगी।

यह कहानी भी पड़े  चुदाई का तजुर्बा

Pages: 1 2 3 4

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


मामा के सामने मामी की चुदाईchorni ki hindi sex khaniyaलड़की को अगवा कर जबरदस्त चुदाई कहानीचूत चुदाई का खेलhindi bilu video villeg jangalचचेरे मामा से अपनी बुर चुदवा लीsangita tai ki chudai incest storiesचाची की नाभी मेरा लण्ड घुसने लगाचूतaunty k tarbuj jese chuchiya sex kananiyaमौसीजी ने तेल लगा के सेक्स किया हिंदी स्टोरीguda methun antarvasnaकमला की चुदाई की कहानीमें डिल्डो यूज करती हूँअन्तर्वासनाGaw ke dehati kam umra wale schooli ladki ke garma garam chodai ke kahanibri didi ki phuli bur khaniWww xxx Bhabhi ne chudwayamms vidieo.comPanditji ke sath sex storydudhihindi hindisex videoअंकल के साथ ड्रिंक चुदाई २ मा को ब्रा पसंत है सेक्सी हिंदी कहाणीkamvale ke must chudae khane xxxचुदाईअपनीNEWBRAPANTEYराजस्थान की चुदाईGrop antrwasnaहिंदी सेक्स स्टोरीज भाभी की पेंटी शॉपिंग incestchoudashi haus waif .com kahaniशिश्न मुंड को फुलानाहम तो चुदवायेगीyatra me risto me hui chudai ki hindi storyसलोनी की प्यारी चुदाई की कहानीRas bhari gudaj gaandaunty k tarbuj jese chuchiya sex kananiyaAntarvasna incestचुतसलोनीhindisexstoriessiteचोदीshuhagrat pe gannd msrisex storyआआआआहह।बुड्डे नोकर के लम्बे और मोटे लन्ड कच्ची बुर चुदाई की कहानियाँतीन मोटे लंड ममी कि अकेली चुत कहानीbahan bhai ki majedar xxx kahaniकोमल की कामुक कहानिया हिंदी सेक्स स्टोरी माँ और नौकरानी और मेरा घरNadi mai facha fach chudaiमेरे दोस्त ने मेरी भाभी को चोदा-2परिवार मेँ माँ पापा भाई बहिन की एकसाथ चूदाई की कहानियाँअन्तर्वासना हिंदी सेक्सी स्टोरीपहला लण्डBhabiseschudaiआयशा की गांड चुदाईAndhera khade 2 lund liya chupchap incestमेरी बीवी को चोद दिया मादरचोद ने मोटे लंड सेचुदाई की आदतdildo se meri chut ki sel thodisareef larki sexy KahaniAafrin ki gand Mari in Hindi xxx sex storydidi ke kankh par baalआह मादरचो मज़ा आ रहा हे कहानीसाली को चुपके से बोबे देखे Xxx storyठंडी मे दोसत की बीवी की चोदाई की कहानीma ki malish & chudhi ki khani hindi memadarchod.nada.khool.de.hindiलड़की की चूतbehan bani frind ka gift gangbang sex storychare bhai milne aya sabita bhabhi se story hindimujhe dekar chodaचूत में दो लंड डालते हैंभाभी को चुदते देखामैंने मज़बूरी में गैर मर्द का लंड चूसXxnxxx BHEJUR 2014अन्तर्वासना काजल