मेरी माँ और हमारे मकान मालिक

क्या मादक नज़ारा था, मेरी माँ आधी नंगी लेटी हुई थी एक नंगे मर्द के उपर, और पूरे ज़ोर से उस मर्द के होठों को चूस रही थी. 5 मिनिट तक दोनों ने ज़बदस्त स्मूच किया. फिर राज ने माँ को अपने उपर से हटाया और उठ के बैठ गया. फिर उसने माँ को अपने उपर लेटाया, माँ की पीठ राज के छाती पर थी, और उसका सर राज के कंधे और सर के बीच था. राज ने दोनों हाथों से माँ के उभारों को अपने मज़बूत हाथों में लेकर दबाना शुरू किया. माँ सिसकियाँ लेने लगी, “आइईईईई….और ज़ोर से दबा, कितने सख़्त मर्दाना हाथ हैं तेरे. इन पर अब सिर्फ़ तेरा हक़ है. निकाल दे जितना दूध हैं इनमें और पी ले उस दूध को.”

राज अब माँ की निपल्स को भी ज़ोर ज़ोर से भींच रहा था. 4-5 मिनिट तक माँ के दूध रगड़ने के बाद राज ने एक हाथ उसके पेटीकोट के अंदर डाल दिया. राज अब माँ की चूत में उंगली करने लगा. माँ ऐसे छटपटाने लगी जैसे एक मछली छटपटाती है पानी के बिना. राज एक हाथ से माँ के दूध कस के दबा रहा था और दूसरे हाथ से माँ की चूत में ज़ोर ज़ोर से उंगली कर रहा था. बीच बीच में राज माँ की चुचियों को अपनी उंगलियों में लेकर खींच रहा था. माँ बहुत गर्म हो गयी थी अब, वो अपने होंठ अपने दाँतों में भींच रही थी. माँ की सिसकियों से पूरा कमरा गूँज रहा था. माँ ने अपना एक हाथ राज के उस हाथ पर रखा जिससे वो उसकी चूत दबा रहा था और उसके हाथ को दबाया ताकि राज और ज़ोर से उसकी चूत में उंगली करे. फिर माँ ने खुद अपने हाथ से अपने पेटीकोट का नाडा खोला ताकि राज को उंगली करने में दिक्कत ना हो. दूसरा हाथ माँ ने राज के सर के पीछे रखा और उसके सर को अपनी तरफ़ घुमाया. फिर माँ ने अपना सर घुमाया और अपनी जीभ निकाल के राज के होंठ चाटने लगी. वो राज के सर को अपने हाथ से अपनी ओर खींच रही थी और पूरे तगड़े तरीके से राज के होठों को चाट रही थी. राज ने भी माँ की जीभ को अपने मुँह मे लेके चूसना शुरू किया. अपनी माँ को ऐसी आधी नंगी अवस्था में एक नंगे मर्द को ऐसे चूमते देख मैंने भी अपना लंड हिलाना शुरू कर किया.

यह कहानी भी पड़े  दो सहेलियाँ जोरदार चुदाई

राज अब बहुत तेज़ी से माँ की चूत में उंगली कर रहा था. 5 मिनिट बाद वो रुका, और अपना हाथ माँ के पेटीकोट से निकाला. उसकी उंगलियाँ माँ के चूत की मलाई से भीगी हुई थी, राज ने अपनी उंगलियाँ अपने मुँह में लेके चाटी, और फिर माँ को चटाई.

राज बोला, “तेरा दूध जितना मीठा है, तेरी चूत उतनी ही नमकीन है, मज़ा आ गया.” और फिर से राज और माँ ने एक तगड़ा किस किया. अब राज ने माँ को लेटा दिया और ख़ुद उठ के माँ की टाँगों के पास आ गया. उसने माँ के पेटीकोट निकाल दिया. माँ ने नीचे काले रंग की लेस पैंटी पहनी हुई थी. राज ने माँ के पैंटी भी निकाल दी. माँ ने खुद अपने चूतड़ उठा कर राज को अपनी पैंटी निकालने में मदद की. अब माँ पूरी तरह नंगी हो गयी थी. पहली बार मेरी माँ एक ग़ैर मर्द के आगे नंगी हुई थी, और ये ग़ैर मर्द एक 42 साल का गोरा, मूछों वाला और लंबी दाढ़ी वाला एक मर्द था. राज माँ की टाँगों के बीच लेट गया. माँ ने भी अपनी टाँगें फैला के राज को अपनी गोरी चिकनी चूत के दर्शन कराए. एक महीना में ही मेरी माँ ने अपनी टाँगें फैला दी मकान मालिक के आगे. राज जीभ निकाल के माँ की चूत को चाटने लगा. जैसे एक कुत्ता एक कुतिया की चूत चाट कर उस कुतिया को गर्म कर देता है, वैसे ही राज माँ की चूत चाट कर उसको गर्म कर रहा था. राज पूरे ज़ोरों से माँ की चूत के दाने को अपनी जीभ से रगड़ रहा था,

यह कहानी भी पड़े  सहेली के पापा से जोरदार चुदाई

माँ तो जैसे जन्नत में पहुँच गयी थी, वो पूरे ज़ोर से सिसकियाँ के रही थी, वो भूल गयी थी की उसका 12 बरस का बेटा उपर सो रहा है, अब बस वो राज के साथ सेक्स में पागल हो गयी थी. माँ के दोनों हाथ राज के सर पर थे और वो ज़ोर से उसके सर को अपनी चूत की तरफ़ धकेल रही थी, और राज को और ज़ोर से अपनी चूत चाटने का इशारा कर रही थी. माँ नीचे से अपने चूतड़ भी उपर को उठा रही थी. “हे भगवान, क्या कर रहा है राज तू मेरी चूत के साथ, रुक मत अब, खा जा मेरे दाने को तू, और ज़ोर से……और ज़ोर से….आइईईईई….हिस्स्स्स्स्सस्स” वो अपने दाँतों से अपने होठों को भींच रही थी, कभी कभी अपने एक हाथ से अपने दूध और निपल्स भी दबाती.

Pages: 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


चुचिantervasna khani ke sath ladki ne phone namber daleबहन पापा से सामूहिक छुड़ाईगांड मारने की कहानियाsexbaba.net बहु ससुर की चुदाई की कहानीhttps://buyprednisone.ru/train-mai-chudai-ki-kahani-11/चची की पेटीकोट का नाड़ादीदी चुदी मेरे बॉस सेहिंदी सेक्से दीदी की मोठे मोठे गण्डhttps://buyprednisone.ru/maried-aunty-ki-antarvasna-sex/सेक्सी वीडियो पंजाबी बोलते हुए सेक्स करतेदीवाली सेक्स स्टोरीxxxhot tether Sirrassi se bandh kar sex storychoot me मक्खन डालनाXxx story ground ma ladki ki todi seal Hindi maहिंदी सेक्सी कहानियाँ खुलम खुलाtruck me gangbang chudai sexy storyचूतसोना चुदाईमुस्लिम सेक्सी कहानियाँ राज शर्मामै किसी के प्यार मैं फंस गई और उसने की मेरी गैंगबैंग चुदाईबेबस दीदी को छोड़ा सेक्स स्टोरीजकामोन्माद चुदाईताई चुदाई की कहानीताई की सेक्स कहानीAntarvasna aunty dekh ke xossipबिना कपड़ो की चुदाईकोमल मेरी हस्तमैथुन करने की स्टोरीxxx sex in bhabhi suhagrat rubdi khanniचुदचुदने का मजाten thái lan porn ra nhiều nướcलड की भुखी लडकिया Antarvasnachuchi jore से masalne की कहानीबेटी के साथ सेक्सMaa ne bete ko bnaya choot ka gulam hindi sexy khaniचुतद करनाBeta tu isi bur se nikla hai sex storyneharani ki chudai storyदीदी के सामने बैठकर मुठ मारसमधी से चुदवायाआह अममी औह हीनदी सेकस कहानीयाभीड़ में मोटी सास के चूतड़ों का मज़ा स्टोरीsas dmad sxiy khaney gande galefufa ne ki chachi ki chudai sexy storyचुदाई एक गाँव की कहानीमम्मि ने बुआ कि गान्डbhai bahan ki rajai me chudai xxx hindi storybarsat kiraat m sex khaniyaChudai ke baad choot picsकुँवारी चूत बुरी तरहseel kaise todi jati hai likha huwa bataieराज शर्मा की sex badaहिनदी पापा चोदोMummy k8 chudai watsaap ka karan sex storypadosi ladki antervasna rajayidesi pabhi hanjra wali pabhisex bhai ne bhahn ko bhatharum me codh.comchut me giravali sexsi vidobuaa ki chudai ki kahania sexbaba.comऔलाद के लिए चुदवाईसांवली चूतAslam ne mama banaya Chudai storyxxx video naighti and barra paintyचोदाईमामी चुदाई सेक्सी साड़ी कहानियाँफिगर चुतचूत का मज़ा विधवा ने दियागर्भवती कि मस्त कमर देख चुदाई कहानीहिनदी पापा चोदोLund pikar piyaas bujhai xvideoभाई ने बहन और उसकी सहेली की कुँवारी बुर और गाड़ पेल कर फाड़ दिया अंतर बासना मम्मी नादान बेटे की इच्छाnajayaz rishta incest maa beta hindi kahaniDildo wali bhabhi lmbi chudai khanibiwi ke gulam antarvasanaसविता भाभी अशोक का इलाजभाभी की बूब दबा के मजे कियाhindi aabaj gali chudai saf.xxx.comमकान मालकिन की सहेली की चुदाई आँखों से कोसों दूर थी। अचानक अरूण ने मेरी ओर करवट ली और बोले, “पानी दोगी क्या, प्यास लगी है !” मैं उठी और अरूण के लिये पानी लेने चली गई। वापस आई तो अरूण जग चुके थे और मेरे हाथ से पानी लेकर पीने के बाद मुझे खींचकर फिर से अपने पास बैठा लिया और अपना सिर मेरी गोदी में रखकर लेट गये। मैं उनके बालों को सहलाने लगी, मैंने देखा उनका लिंग मूर्छा से बाहर आने लगा था उसमें हल्की हलचुतचुदाई.गानापत्नी समज के छोटी बहन की चुदाई स्टोरीसेक्सी माल की कहानी