मेरी चाची बड़ी निकम्मी–2

चाची: “दाल..”

फूफा:”क्या दाल?”

चाची” “अर्रे.. चने की दाल”

फूफा: “अछा दाल..मे तो कुछ और ही समझ रहा था”

चाची: “आप तो हमेशा, कुछ और ही समझ लेते है” इतना बोलते हुए वहाँ से गुज़री तब तक फूफा ने उनकी कमर पर चींटी ले लेली और उनका हाथ पकड़ लिया.

चाची: “हाए राजेसजी..आप तो बड़े बेशरम हो..”

फूफा: “बेशरम बोलही दिया है तो बेशरम भी बन जाते है”

चाची: “राजेसजी.. मेरा हाथ छोड़िएना, कोई देख लेगा तो क्या कहेगा”

फूफा: “किसीकि मज़ाल जो हमे कुछ कहदे”

चाची: “छोड़िएना….”

फूफा: “एक शर्त पर..मैने बहुत दिनो से मालिश नही करवाया है, तुम्हे मेरी मालिश करनी होगी…और वैसे भी हमारी बीवी के पास वक़्त नही है”

चाची: “तो क्या आपने हमे बेकार समझ रखा है”

फूफा: “अर्रे नही आप तो बड़े काम की चीज़ है..पर प्लीज़ ज़रा मेरी मालिश करदो”

चाची: “अभी?..यहाँ?…नही नही रात को कर दूँगी”

फूफा: “अर्रे आपको को रात को कहाँ फ़ुर्सत मिलेगी…प्रकासजी छोड़ेगा ही नही”

चाची: “अर्रे ऐसी कोई बात नही..वैसे भी आज कल वो शादी के काम मे बहुत बिज़ी है”

फूफा: “अछा तो साले को टाइम नही है.. इतना बड़ा काम छोड़ कर बेकार के काम करता है”

चाची: “राजेसजी छोड़ दीजिए ना..देर हो रही है दीदी इंतज़ार कर रही होगी..मैने आपकी रात को ज़रूर मालिश कर्दुन्गि”

फूफा: “ठीक है छोड़ देता हूँ…पर रात को हम आपको इंतज़ार करेंगे”

चाची: “जी ज़रूर आउन्गि”

ये बोल कर चाची वान्हा से चली गयी पर मे सोच रहा था, चाचीने कभी चाचा की मालिश नही की और फूफा की मालिश के लिए हां बोल दिया, पता नही मेरे अंदर एक अजीब सी कुलबुलाहट हो रही मैने सोचा क्यूँ न आज फूफा पे नज़र रखी जाए.

गाओं मे लोग रात को जल्दी ही सो जाते है, रात के 8 बजे होंगे सब लोगोने खाना खा लिया था और सोने की तैयारी कर रहे थे. मैने देखा फूफा छत पर सोने जा रहे थे, छत पर सिर्फ़ छोटे बच्चे ही सोते थे, औरते घर मे और ज़्यादा तर मर्द लोग दालान मे ही सोते थे. फूफा ने टेरेस के एक कोने की तरफ अपना बिस्तर लगा दिया था, पर उन्हे नीद नही आ रही थी उन्होने अपने जेब से सिगरेट का पॅकेट निकाला और पीने लगे, मे और चाची का बड़ा बेटा विकाश उनके पास के बिस्तर पर ही सो रहे थे, फिर फूफा ने अपनी कमीज़ और पॅंट निकाली और लूँगी पहन ली. तकरीबन 1घंटे. के बाद मुझे किसी के आने की आहट सुनाई दी मैने तुरंत अपनी आँखे बंद करली और महसूस किया कि कोई हमारे पास खड़ा है, टेरेस पर लाइट नही थी पूरा अंधेरा था मैने धीरे से अपनी आँख खोली देखा चाची हमारे उपर चादर डाल रही थी, फिर चाची हमारे पास बैठ गयी और देखने लगी की हम सोए है की नही फिर कुछ देर मे वो उठी और फूफा के बिस्तर पास जा रही थी, चाची के हाथ मे एक तैल की सीसी थी, चाची फूफा के बिस्तर पर बैठ गयी और उन्हे जगाया.

यह कहानी भी पड़े  मम्मी ठण्ड तो कब के चली गई

फूफा: “अर्रे तुम आगाई..”

चाची: “हमे बुला कर खुद घोड़े बेच कर सो रहे हैं”

फूफा: “अर्रे नही मे तो आप का इंतज़ार कर रहा था..मुझे लगा आप नही आएँगी”

चाची: “कैसे नही आती..पहली बार तो आपने हम से कुछ माँगा है”

फूफा: “तो फिर सुरू हो जाओ”

फूफा उल्टा लेट गये और चाचीने सीसी से टेल निकाल कर अपने हाथों पर लिया और फूफा के पीठ (बॅक) पर लगाने लगी, फूफा ने कहा “कोमल्जी आपके हाथ बड़े मुलायम है”

चाची: “वैसे भी औरतों के हाथ मर्दो को मुलायम ही लगते है”

फूफा: “पर आप के हाथ की बात ही कुछ निराली है..आपके हाथो मे तो जादू है..प्रकाश बड़ा नसीब्वाला है”

चाची: “अब ज़्यादा तारीफ करने की कोई ज़रूरत नही”

फूफा: “ठीक है नही करता..लेकिन क्या रात भर आप मेरे पीठ की ही मालिश करोगी”

चाची: “तो घूम जाइए ना”

फूफा घूम गये और चाची उनके सीने और हाथ पर मालिश करने लगी, फूफा लगातार चाची को घूर रहे थे, चाची उन्हे देख कर शरमा गयी और चेहरा नीचे करके मालिश करने लगी. चाची के कोमल हाथ फूफा के पूरे सीने पर फिर रहे थे, फूफा भी थोड़े गरम हो गये थे उनका लंड काफ़ी तन गया था और लुगी भी थोड़ी सरक गयी थी, लंड का उभार शायद चाची ने भी देखा था पर वो चुप चाप फूफा की मालिश कर रही थी, तभी फूफा ने कहा “कोमल्जी ज़रा पैरो की भी मालिश कर दो” चाची बिना कुछ बोले उनके पैरों की मालिश करने लगी, कुछ देर बाद फूफा बोले “कोमल्जी जर उपर जाँघ (थाइस) की तरफ भी तैल लगा दो” चाची एक दम सहम गयी, थाइस पर कैसे हाथ रखती उनका अंडरवेयीर तो तना हुआ था पर चाची हिम्मत कर करके उनके थाइस पर मालिश करने लगी शायद चाची पहली बार की गैर मर्द के थाइस को छू रही, फूफा का लंड तो कपड़े फाड़ कर बाहर आने को तैयार था. थाइस पर मालिश करते समय चाची हाथ एक दो बार उनके अंडरवेर को छू गया था, जिससे फूफा और भी गरम हो गये थे. शायद चाची भी फूफा के पैर के घने बालो (हेर) का मज़ा ले रही थी, कुछ देर बाद फूफा ने चाची के थिग्स पर हाथ रख कर कहा “कोमल्जी ज़रा ज़ोर्से दबाइएना बड़ा अछा लग रहा है” चाची फूफा के हाथ को अपनी थाइस पर महसूस कर थी, चाची भी शायद कुछ हद तक गरम हो रही थी शायद शादी के दौरान उनका संभोग (सेक्स) चाचा से नही हुआ हो. फूफा फिर अपना हाथ उनके थाइस से हटा कर चाची की कमर पर प्यार से फिराने लगे, चाची बोली “गुदगुदी हो रही है”

यह कहानी भी पड़े  दोनों साली की सील तोड़ी एक ही रात में

Pages: 1 2 3 4

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


बुआ चुदाईहम तो चुदवायेगीचुतचूत का नसाSex ke dauran jaldi jhrnaटूशन टीचर को बारिश म छोड़ापापा का तगड़ा लोडा sax storiesPuchit land new hindi kathaचाची की चुत चाटने मजा आता हैहिंदी सेक्सी कहानियाँकमली काकी के सैक्स विडियोबुआ ने मेरा मोटा लंड देख चुदने से मना लियाबीबीचुतbehan ki nukili chuchisil paye kapda phar ke pornदो लंड एक साथ कहानीanyar vashna mamu bhanjiBadi ma yani taiji ki chudai ki hindi kahaniमेरी बीवी को चोद दिया मादरचोद ने मोटे लंड सेmetro me aunty ki gund par lund ghisaसेक्स हिंदी स्टोरी सेल की बीवीकाली।चूतवासनाअंकल के साथ ड्रिंक चुदाई २dud dhikhake lund chusa sex kahaniyaSex kahaniya/बर्थडे गिफ्टहिन्दी अंतरवसना सेक्सी फोटो कहानी सिस्टर जबरदस्त छोडा ब्लैक मेल कर मालिश माँ सेक्सी वीडियोसगुदा में उंगली करनाचुदाई रिश्तादीदी और बुआ सेक्स कहानीmarks badwane ke liye chudai antarvasnaपुच्ची रसदीदी के सत रुओं में छोड़ाए किये हिंदी सेक्स स्टोरीचुदाई की बातब्लाउज ऊतार जवानी विडियो XXXtai ki saxe storeabhaghani beegदो बांस और भाई hindi sexरागिनी और उसके बहनो की सेक्सी कि चूत चुदाई बुर फाड कहानियाअन्तर्वासना भाई बहन दारू पी केgair matdo chodane ki khaniWww xxx Bhabhi ne chudwayamms vidieo.comअनजाने में माँ की चुदाईमाँ के देहांत बाद बचपन से मौसी लंड की तेल मालीश करती चुदाई की कहानीयाबस में अन्तर्वासनाmetro me aunty ki gund par lund ghisaGoa antarvasnagandu chuda bus me storiअचा चुतचाचा ने लंड डालकर दीया मजाBenkar gandh cudai sex xxxवीधवा भाभी ने मुठ मारी चुदाई की कहानीयातेरी बीवी की ब्रा उतार रहा हूंAntarvasna aunty dekh ke xossipतीन मोटे लंड ममी कि अकेली चुत कहानीchut kholo mujhe land dalna haमाँ को बेटा का इन्तजार चुदाई कादीदी की गाड़ देखकर सेक्स किया लिखा हुआdaeikand sexiराज शर्मा की sex badavasana बहन का सेक्स कहनीमैंने उसकी गांड को चोद के उसका छेद बड़ा कर दियाmaa ne beti ko chudai sikhayi 2Antrvasna mosi mosa or Mai ek sath Soye bad parमाँ की चुदाई की ठंडी रजाई मेनंगे चूचे चूसनावीवी की चुदाई गेर के साथरेनू को अकेले मे गाड मरी जबरदस्ती हिंदी सेक्स स्टोरीबूब मस्ती इन बस स्टोरी इन हिंदीdidi mutane lagiचूत लंड की बोलते हुएchuchi jore से masalne की कहानीbhai bahan ki rajai me chudai xxx hindi storyDidi ko baramade me sex storiesxxx sex story adla badli with sanskari in partsचुतरात भर लडकेने चुदाई किया खेतमे काहानिमेरी बीवी को चोद दिया मादरचोद ने मोटे लंड सेदोनो बेटेसे चुदि माँ कथाsexy maa ki mast chudai keval petikot blauj meHaye raja meri beti ki bur mein lauda dalo napadosi ladki antervasna rajayiअदिती बहु चुदाई अन्तर्वासना .Mami ki nokri part 2 xxx suoriesbahan ko modern banayaantervsna aunti or bhabhimetro me gaand mari hindi storyग्रुप में दर्द चुदाई कहानीगुदादवार की मालिशmaa ki bra panty maine kharidiऊऊईई