मासूम भाई बहन की कामुकता

कुच्छ देर मज़ा करने के बाद मैं फारिग हो गया और सो गया. नेक्स्ट नाइट फिर वैसे ही सोए थे हम और दोबारा काफ़ी देर बाद मैने अपना हॅंड मनिषा दीदी की गान्ड पे रखा और मज़ा करने लगा लेकिन लालच बढ़ गया था तो मैने करवट ली दीदी के पिछे और अपना लेफ्ट हॅंड दीदी के उपेर रखा बाजू पे शोल्डर के करीब दीदी ने कुच्छ नही कहा वो सो रही थी मैने हिम्मत कर के अपना हॅंड मूव किया और दीदी की कमीज़ साइड पे कर के अंदर ले गया और थोड़ा अंदर ले जा के दीदी के पेट पे रख दिया दीदी का पेट भी गरम था लेकिन बहुत मुलायम था. कुछ देर बाद मैने अपना हॅंड वहाँ से मूव किया और थोड़ा आगे ले गया तो मेरा हॅंड दीदी के बूब्स को टच हुआ.

दीदी करवट पर सो रही थी जिस की वजह से दीदी के बूब्स साइड पे थे और ब्रा लूस हो गया था और तक़रीबन दीदी के हाफ बूब्स ब्रा मे थे और दीदी का हाफ ब्रा फ्री था और मेरा हॅंड दीदी के दोनो बूब्स के बीच था.

मैं अपनी बड़ी दीदी के बूब्स को फील करने लगा वो बहुत सॉफ्ट और मुलायम थे मुझे बहुत मज़ा आ रहा था मैं काफ़ी देर मनिषा दीदी के बूब्स को फील करता रहा और जब मूठ मारते मारते झाड़ गया तो सो गया.

नेक्स्ट नाइट दोबारा मैने अपना हॅंड दीदी की कमीज़ मे डाला और दीदी के बूब्स तक पहुँच गया. आप यकीन नही करोगे दीदी ने उस रात ब्रा नही पहना हुआ था उफ्फ मेरा तो खुशी से बुरा हाल था खैर मैने आराम से दीदी का लेफ्ट बूब पकड़ लिया और आराम से दबाने लगा फिर मैने दीदी के निपल को टच किया तो वो हार्ड था.

यह कहानी भी पड़े  मुस्लमान सेक्स कहानी खाला को लंड दिखाया

मुझे बहुत मज़ा आ रहा था और मैं दीदी के बूब्स के साथ खेलने लगा अचानक दीदी थोड़ा सा हिली तो मैने डर से फ़ौरन अपना हॅंड बाहर निकाल लिया. लेकिन तभी मुझे दीदी की आवाज़ सुनाई दी.

“भाई आराम से सो जाओ या उठाऊ बादल को” दीदी धीरे से बोली

मेरी तो गान्ड ही फट गई क्योंकि भैया भी वहीं सोए हुए थे और यू ही गान्ड फट.ते फट.ते पता नही मैं कब और कैसे सो गया. सुबह उठा तो सब कुच्छ नॉर्मल था किसी ने कोई बात नही की ना ही भैया न्र और ना ही मनिषा दीदी ने. उस रात मेरी ऐसी गान्ड फटी कि कई दिन तक मैने सेक्स का सोचा ही नही.

एक दिन मैं मनिषा दीदी के रूम मे गया दीदी बेड पे बैठी हुई थी मैं साथ जा के बैठ गया. “दीदी क्या बात है आप परेशान लग रही हैं और चुप चुप भी है सब ठीक तो है ना?” मैने दीदी को परेशान देख कर पुछा “कुछ नही भाई ऐसे ही थक गयी हूँ आज कल काम बहुत होता है इस लिए थक जाती हूँ” दीदी बोली.

“दीदी आप कहे तो मैं आपके हाथ पैर दबा दूँ बहुत आराम मिलेगा आपको” मैं बोला

“नही भाई मैं ठीक हूँ रहने दो” दीदी बोली

“दीदी आप लेट जाओ ना प्लीज़ मेरा दिल कर रहा है अपनी प्यारी दीदी को दबाने का” मैं ज़िद करते हुए बोला और मैने दीदी को ज़बरदस्ती बेड पे लिटा दिया और दीदी के पैर दबाने लगा.

मैने दीदी को दबाना शुरू किया तो दीदी को आराम मिलने लगा कुच्छ देर बाद दीदी की आँख लग गई अब मैं दीदी के बदन को दबा भी रहा था और फील भी कर रहा था और मज़े कर रहा था. कुच्छ देर बाद निवेदिता दीदी अंदर आई और मुझे दीदी को दबाते देख के मुस्कुराने लगी.

यह कहानी भी पड़े  तीन भाभियों की फुद्दी चुदाई

“अरे वाह भाई तुम्हे दबाना भी आता है मुझे तो कभी नही दबाया क्या मैं तुम्हारी बहन नही हूँ” निवेदिता दीदी बोली.

“दीदी जब आप थकि होंगी तब आप को भी दबा दूँगा” मैं भी मुस्कुराते हुए बोला.

तभी दीदी उठ गई और बोली “भाई बस करो तुम थक गये होंगे. हां निवेदिता बेटा क्या बात है”

दीदी हम सब को बेटा बुलाती थी.

निवेदिता दीदी :- कोई काम नही है दीदी वैसे ही आ गई, वैसे आपकी तबीयत तो ठीक है ना छोटा दबा जो रहा है आपको?

मनिषा दीदी :- हां मैं ठीक हूँ बस थकि हुई थी तो छोटा ज़िद करने लगा कि दीदी आप लेट जाओ मैं दबा देता हूँ और इसने इतना अच्छे से दबाया कि मेरी आँख लग गई.
निवेदिता दीदी :- अच्छा दीदी फिर आप रेस्ट करो मैं जा रही हूँ.

निवेदिता दीदी चली गई तो मैं मनिषा दीदी को दोबारा दबाने लगा.

मनिषा दीदी :- भाई बस करो मैं ठीक हूँ अब.

“नही दीदी कुच्छ देर तो दबाने दो आज मैं अपनी दीदी की खिदमत कर लूँ पता नही फिर कब ये मौका मिलता है” मैं बोला

“भाई पढ़ते भी हो या सारा दिन खेलते ही रहते हो?” दीदी बोली

“पढ़ता हूँ दीदी सारा काम ख़तम कर दिया है इसलिए तो आप के पास बैठा हूँ” मैं बोला और वापस दबाने लगा अब दीदी भी आराम से दबवा रही थी.

Pages: 1 2 3 4

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


kirayedar rasoi me chudai antarvasnaमाँ के साथ शादी और सुहागरात मनाई सेक्स हिंदी कहानीएक भाई की वासनाइंडियन मम्मी बेटा की chudae गाँव में कहानी हिन्दी मेंchhinal bahu chudakkdमेरी अवैवाहिक सबंधगांड मारीसेक्सी काहानी लेजबियन माँ बेटी नंनदसुखीचूतDildo se Meri chut ki sel thodiSafhed livash exbii storyमाँ ने तेल डाला लंड परantarvasna in hindi new सामूहिक चुदाईमाँ की गोल गोल गाँडSex bare chuchi and chut or bare landका नाड़ा खोल सेक्स स्टोरीजसोती हुई भाभी की चड्डी देखा कहानियामम्मी चुदी अनजान सेलड़की चुतJawan ladki ki chudaiNukrani ki choot fadiलंड पर उछलने लगी पडोस की भाभी की मोटी गाड की मालिशअपनी माँ की कहेने भाई से चूदाइमुझे लंड की भूखचुदाई की आदतकाली।चूतवासनामौसी थोड़ा ऊपर बैठी थी जिससे उसकी चूत से निकली पेशाब की धार दिखाई दे रही थीmombatti dalte dekh liya story xxxमेरे नंगे लंड की मालिश कहानीचूत का मज़ा विधवा ने दियारात भर लडकेने चुदाई किया खेतमे काहानिसहेली के पति से सेक्स कहानियांxx bhanjarni videsdildo sai gand chudai sax storysexy story fufa ji ka land chusaभाभी और मेरी अंतरवासनाantar.wasna.dot.com.sax.stworibubs pakdayaNukrani ki choot fadiशहरी भाभी की चुदाई कथाoffice ka sacha pyar antarvasnaMom ke saath kitchan mein chudai ki part 1माँ और फूफा जी हिंदी सेक्स स्टोरीमौसीजी ने तेल लगा के सेक्स किया हिंदी स्टोरीland chut ki nipal dabata hindi storyचुदाई मालकिन कीबीवी और बहन की च**** ट्रेन मेंबच्चू xxxwww.comTrain main anjan ladki ki chudaiशादी में घमासान चुदाईमां को बेटे से चुदाने की इच्छा हिंदी सेक्स स्टोरीबाकी लड़कियों की लैंड चूसाई और मुंह में पानी निकालनाchudaiki lhanailand chut sax khaniअकेले घर में पड़ोस की लड़की को बहाने Sex storyडरो पति की चुड़ै कहानी हिंदीदोस्त के मम्मी की मस्त चुदाईबुआ चुदाईdusron ki bibiya chodne ki khaniyaकस कर जमकर चुदाईट्रेन मे माँ की चुदाईNadan bachi ko land chusaya antrwasnaचुदाई रात मैपरिवार मे चुदाई - ये कैसा ससुरालपरिवार में सामूहिक चुदायआंटी को कंडोम लगा के छोड़ा हिंदी स्टोरीचुचीरोज अपने भाई का लौड़ा चूसती हूँAntarvasna dono padosan anty ki galiyaबाबा के चुदाईमेरी चाहत, मेरी फ़ुफ़ेरी बहन की शादी में part 2New xxxxstori panjabi vidyo