केले का भोज Part – 3

“निशा, सुन रही हो ना। अगर मना करना है तो अभी करो।”

“निशा, तुम…. मैं नहीं चाहता, लेकिन इसमें तुम पर… कुछ जबरदस्ती करनी पड़ेगी, तुम्हें सहना भी होगा।” सुरेश की आवाज में हमदर्दी थी। या पता नहीं मतलब निकालने की चतुराई।

कुछ देर तक दोनों ने इंतजार किया,”चलो इसे सोचने देते हैं। लेकिन जितनी देर होगी, उतना ही खतरा बढ़ता जाएगा।”

सोचने को क्या बाकी था ! मेरे सामने कोई और उपाय था क्या?

मेरी खुली टांगों के बीच योनिप्रदेश काले बालों की समस्त गरिमा के साथ उनके सामने लहरा रहा था।

मैंने नेहा के हाथ के ऊपर अपना हाथ रख दिया- जो सही समझो, करो !

“लेकिन मुझे सही नहीं लग रहा।” सुरेश ने बम जैसे फोड़ा,”मुझे लग रहा है, निशा समझ रही है कि मैं इसकी मजबूरी का नाजायज फायदा उठा रहा हूँ।”

बात तो सच थी मगर मैं इसे स्वीकार करने की स्थिति में नहीं थी। वे मेरी मजबूरी का फायदा तो उठा ही रहे थे।

“खतरा निशा को है। उसे इसके लिए प्रार्थना करनी चाहिए। पर यहाँ तो उल्टे हम इसकी मिन्नतें कर रहे हैं। जैसे मदद की जरूरत उसे नहीं हमें है।”

उसका पुरुष अहं जाग गया था। मैं तो समझ रही थी वह मुझे भोगने के लिए बेकरार है, मेरा सिर्फ विरोध न करना ही काफी है। मगर यह तो अब …..

“मगर यह तो सहमति दे रही है !”, नेहा ने मेरे पेड़ू पर दबे उसके हाथ को दबाए मेरे हाथ की ओर इशारा किया। उसे आश्चर्य हो रहा था।

“मैं क्यों मदद करूँ? मुझे क्या मिलेगा?”

सुनकर नेहा एक क्षण तो अवाक रही फिर खिलखिलाकर हँस पड़ी,”वाह, क्या बात है !”

सुरेश इतनी सुंदर लड़की को न केवल मुफ्त में ही भोगने को पा रहा था, बल्कि वह इस ‘एहसान’ के लिए ऊपर से कुछ मांग भी रहा था। मेरी ना-नुकुर पर यह उसका जोरदार दहला था।

यह कहानी भी पड़े  भाभी सेक्स स्टोरी मुझे कॉल बॉय बनाने की

“सही बात है।” नेहा ने समर्थन किया।

“देखो, मुझे नहीं लगता यह मुझसे चाहती है। इसे किसी और को ही दिखा लो।”

मैं घबराई। इतना करा लेने के बाद अब और किसके पास जाऊँगी। सुरेश चला गया तो अब किसका सहारा था?

“मेरा एक डॉक्टर दोस्त है। उसको बोल देता हूँ।” उसने परिस्थिति को और अपने पक्ष में मोड़ते हुए कहा।

मैं एकदम असहाय, पंखकटी चिड़िया की तरह छटपटा उठी। कहाँ जाऊँ? अन्दर रुलाई की तेज लहर उठी, मैंने उसे किसी तरह दबाया। अब तक नग्नता मेरी विवशता थी पर अब इससे आगे रोना-धोना अपमानजनक था।

मैं उठकर बैठ गई। केले का दबाव अन्दर महसूस हुआ। मैंने कहना चाहा,”तुम्हें क्या चाहिए?”

पर भावुकता की तीव्रता में मेरी आवाज भर्रा गई।

नेहा ने मुझे थपथपाकर ढांढस दिया और सुरेश को डाँटा,”तुम्हें दया नहीं आती?”

मुझे नेहा की हमदर्दी पर विश्वास नहीं हुआ। वह निश्चय ही मेरी दुर्दशा का आनन्द ले रही थी।

“मुझे ज्यादा कुछ नहीं चाहिए।”

“क्या लोगे?”

सुरेश ने कुछ क्षणों की प्रतीक्षा कराई और बात को नाटकीय बनाने के लिए ठहर ठहरकर स्पष्ट उच्चारण में कहा,”जो इज्जत इन्होंने केले को बख्शी है वह मुझे भी मिले।”

मेरी आँखों के आगे अंधेरा छा गया। अब क्या रहेगा मेरे पास? योनि का कौमार्य बचे रहने की एक जो आखिरी उम्मीद बनी हुई थी वह जाती रही। मेरे कानों में उसके शब्द सुनाई पड़े, “और वह मुझे प्यार और सहयोग से मिले, न कि अनिच्छा और जबरदस्ती से।”

पता नहीं क्यों मुझे सुरेश की अपेक्षा नेहा से घोर वितृष्णा हुई। इससे पहले कि वह मुझे कुछ कहती मैंने सुरेश को हामी भर दी।

यह कहानी भी पड़े  पंडित जी ने मेरी चुदाई की

मुझे कुछ याद नहीं, उसके बाद क्या कैसे हुआ। मेरे कानों में शब्द असंबद्ध-से पड़ रहे थे जिनका सिलसिला जोड़ने की मुझमें ताकत नहीं थी। मैं समझने की क्षमता से दूर उनकी

हरकतों को किसी विचारशून्य गुड़िया की तरह देख रही थी, उनमें साथ दे रही थी। अब नंगापन एक छोटी सी बात थी, जिससे मैं काफी आगे निकल गई थी।

‘कैंची’, ‘रेजर’, ‘क्रीम’, ‘ऐसे करो’, ‘ऐसे पकड़ो’, ‘ये है’, ‘ये रहा’, ‘वहाँ बीच में’, ‘कितने गीले’, ‘सम्हाल के’, ‘लोशन’, ‘सपना-सा है’…………… वगैरह वगैरह स्त्री-पुरुष की

मिली-जुली आवाजें, मिले-जुले स्पर्श।

बस इतना समझ पाई थी कि वे दोनों बड़ी तालमेल और प्रसन्नता से काम कर रहे थे। मैं बीच बीच में मन में उठनेवाले प्रश्नों को ‘पूर्ण सहमति दी है’ के रोडरोलर के नीचे रौंदती चली गई। पूछा नहीं कि वे वैसा क्यों कर रहे थे, मुझे वहाँ पर मूँडने की क्या आवश्यकता थी।

लोशन के उपरांत की जलन के बाद ही मैंने देखा वहाँ क्या हुआ है। शंख की पीठ-सी उभरी गोरी चिकनी सतह ऊपर ट्यूब्लाइट की रोशनी में चमक रही थी। नेहा ने जब एक उजला टिशू पेपर मेरे होंठों के बीच दबाकर उसका गीलापन दिखाया तब मैंने समझा कि मैं किस स्तर तक गिर चुकी हूँ। एक अजीब सी गंध, मेरे बदन की, मेरी उत्तेजना की, एक नशा, आवेश, बदन में गर्मी का एहसास… बीच बीच में होश और सजगता के आते द्वीप।

Pages: 1 2 3 4 5 6 7 8

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


Germard ki bahome sex story Hindi कच्ची उम्र दूध सेक्सहलकि किचुदाइsheela.xxx.hindi.kahaniचूत चोदने का मजाsex bideo bhai ne bahen ko patk ke chudai ki dabkeमेरी बहन मेरे साथ सो रही थी मैंने उसके बूब दबाये सेक्स स्टोरी हिंदीचूत फैलाकर लन्ड लियादोनो बेटेसे चुदि माँ कथाAntarvasna gaand me dildo lasboवहशी लण्ड से गांड x sexi kahaniya.kajl ke sath coolej mai sex kahani hindi maiमेरे बेटे ने पेटीकोट उठाकर चोदापुच्ची रसचुदाई की आदतGaw ke dehati kam umra wale schooli ladki ke garma garam chodai ke kahanixxx bur me laddalke chudns hinde dashicchote larke ko बोल ke लालच से भाभी ne सेक्स क्या हिंदी कहानीबुर ki safai rezar she xxxचुतहलकीबाबा के बङे लौङे से बुर चुदाई कि कहानीMaa aur beti ki Luka chuppi chudai xxx video hdsexy story posan wale antynokrani ne 69 position me chusa xxx khanixxx story hindi train me chooti bahen ko goad me baithayमेरा लंड सिकंदर बड़ी साली की चूत के अन्दर-4लड़की की चूतअंधे से hindi sex storiesDildo wali bhabhi lmbi chudai khaniमेरा बॉस मुझे लाइन मारता थाrkh,tahi,chilana,xnxxcomचाची की नाभी मेरा लण्ड घुसने लगादो बहनो की चुदाई कहानी duur se chudwate dekha sex storyमेरी वाइफ की बर्बादी 1 hindi sex storyमम्मी के मांसल चूतड़ों की दरार भी साफ दिखाईचूत की फांकेंKasmakas antarvasnaAafrin ki gand Mari in Hindi xxx sex storymangalsutra land me lapet di bhabhi chudai videoभाभी ने गाँड कि गपागप चुदाईअजनबी ने दोस्त के मम्मी को पटाय कहाणीमॉ के कहने पर दीदी कोDidi aapki gand bhut sexy hचुदक्कड बहन कीSex story hidin.चूत फडवाई बरसात मे हाँस्टलNauvi kaksha ki antarvasnaमाँ को नंगा नहाते देखा बीटा हिंदी कहानीमाँ को खेत में चोदाजवाजवीची गोष्टदबाये बूब्स हिन्दी कहानियाबच्चेदानी के मुंह तक लंड पहुंच गयाchorni ki hindi sex khaniyaमेरी चुत लंड मांगरही हैमाँ और मौसी की चुदाईबीवी की चुदासयात्रा ki आप बीती sexy kahaniyapinku Ko khet me sil Pak cudai kahaniसलवार चुदाई कथाhindisax कहानी buua kibetiNukrani ki choot fadidost ke papa aur meri maa ka najayaz sambhand Hindi sex storyantarvasna केवल माँ और हिंदी में samdhi सेक्स कहानियाँहिंदी चुदाई स्टोरी आउचफुल रोमांटिक मजेदार क्सक्सक्स स्टोरी हिंदीbhaha ne mere land konahlaya chudai khani hindiऑन्टी बोली आज तेरा लन्ड निचोड़ लुंगीचुदाई चारो की बुरantarvasna bua Hindiनैन्सी भाभी की सेक्सी कहानीSexkahanilesbianmom aafriki lund se chudiसपना का बदला 2 sxsi khaniyaमेरी माँ बहन बुआ की चुदाई की कहानियोंमा ने लिया बेटे का लन्ड न्यूड विडीयोBadi sali pregnant xxxX.antarwasnaअन्तर्वासना काजलमो सी की चूतantarvasanasexstorys.comPayal birthday sexy story truck me gangbang chudai sexy storyमामी की चूचीमम्मी से चुदाई वाला खेलAntarwasnamajak me chod diya chacheri mami ke beti koचुदाई स्टोरीxvideos con dau len lutbeti ne ma se rat me lund ki farmais ki kahaniनौकर ने दोनों लड़कियों को चोदाXxx mombi raanddi porn hinddiसफर मे चुदाई कहनीसेक्सी चूतरोज तुझसे चुदवाऊँगी मेरी रेखा चाची की चुदाई कहानी