परिवार का असली हिस्सा

“क्या तुम्हें मम्मी जी और पापा जी ने कुछ बताया है” ममता ने पूछा.

अमर ने उसे बताया कि उसे सब पता हुई. अमर के परिवार में सब लोग आपस में काम क्रिया का आनंद लेते थे. पहले ये सब खुले में होता था. जब से अमर ममता का विवाह हुआ, ये सब छुप के हो रहा था. पर आज जब ममता ने ये सब देख लिया, जैसा कि पहले से प्लान था, उसे इस प्रक्रिया में शामिल कर लिया गया.

“चलो अच्छा हुआ जो हुआ, देर सबेर तुम्हें ये सब पता चलना ही था. उससे अच्छा ये हुआ कि तुम अब इस परिवार के इन आनंद भरें खेलों में शामिल हो गयी हो मेरी रानी.” अमर ने शरारत भरी अदा से बोला.

“मुझे तो अभी तक यकीन नहीं हो रहा है कि एक ही परिवार के लोग आपस में ऐसा कर सकते है”, ममता अभी भी हैरान थी.

“तुम्हारा सोचना भी जायज़ है. पर सेक्स इतना आनंद भरा काम है. जरा सोचो ये सब बाहर के लोगों से करना थोडा खतरे वाला काम हो सकता है. इस लिए हमारे परिवार में हम इतनी आनंददायक चीज को आपस में करते हैं.” अमर ने बोला.

“पर फिर भी सोच के अजीब सा लगता है”, ममता बोली.

“अरे जरा याद करो, आज दोपहर में जब चाचा जी पीछे से अपना लंड तुम्हारी चूत में पेल रहे थे, तब तुम्हें जरा भी बुरा लगा क्या. तब तो तुम मजे से पापा जी का लंड अपने मुंह में चुभला चुभला के चूस रहीं थीं. एक ही जिन्दगी मिली है. इसे एन्जॉय करें. इसे क्यों बेकार में ऐसे ही जाने दे जमाने के बेकार के नियम मान कर?” अमर बोला.

“ह्म्म्म…. तो तुम कब से चुदाई के खेल खेल रहे हो?”

“बस मेरी रानी, जब से अठारह का हुआ, तबसे पेलाई कि प्रैक्टिस कर रहा हूँ. ताकि जब भी तुम जैसी कोई मिले उसे जीवन का पूरा मज़ा दे सकूं.”

यह कहानी भी पड़े  माँ की बहन को चोद डाला

“और कितने रिश्तेदार शामिल होते हैं इस समारोह में?”

“अब चाचा का तुम्हें पता ही ही है. चाची भी एक नम्बर की चुदाक्कड हैं. मैं जब उनके यहाँ जाता हूँ, मुझे चाचा चाची के रूम में सोना पड़ता है. बाकी के रिश्तेदारों के बारे में धीरे धीरे पता चल जाएगा”

“और गौरव और विवेक?”

“जब भी घर में कोई जन्मदिन वगैरह मनाते हैं. हम सब मिल के मम्मी कि चुदाई करते हैं. जिसका जन्मदिन होता है उसे सब से पहले लेने को मिलती है.”

“हे भगवान्…” ममता अभी भी हैरानी में थी

“कल छुट्टी है, गौरव और विवेक को भी तुमसे मिलवा देंगे” अमर बोला

“नहीं अमर. इस परिवार ने मुझे इतना चुदाक्कड बना दिया है. गौरव और विवेक से तो मैं अब अपने अंदाज़ से मिलूंगी. थोडा मुझे भी नए जवान लड़कों को रिझाने का मज़ा लेने को तो मिले”

“अरे बिलकुल ममता रानी. उन सालों कि किस्मत खुल जायेगी.”

“हाँ अमर. बड़ा मज़ा आएगा मुझे मेरे दोनों देवरों को एक साथ चोद के”. ममता पूरे उत्तेंजना में थी.

“दो दो मर्दों को एक बार चोद लिया आज तो अब दो से कम में काम नहीं चलेगा तुम्हारा लगता

है.”

“नहीं अमर. एक बात मैं एकदम साफ़ कर दूं. अब मैं किसी से भी चुदूं या कुछ भी करू. पर सच्चा प्यार मैं हमेशा तुमसे ही करूंगी.” ममता ने बोला.

“ममता रानी तुम मेरी हो और सदा मेरी रहोगी. ये मेरा वादा है”. अमर ने उसका हाथ अपने हाथ में ले कर वादा दिया.

“तो क्या तुम लोगों कि बहनें भी?”

“मैंने पहले ही बताया कि मेरा पूरा परिवार एक दुसरे से एकदम खुला हुआ है. जब भी हम में से कोई भी अठारह वर्ष का हुआ, उसे पारिवारिक चुदाई समरोह का टिकट तुरंत दे दिया गया”, अमर ने बोला.

यह कहानी भी पड़े  ठण्ड का मौसम और दोस्त की सुन्दर बहन

“धीरे धीरे सब पता चलेगा. अभी इन चीजों का मजा एक एक कर के लो. सब इकट्ठे ले नहीं पाओगी” अमर ने बोला.

“आप ठीक कहते हो” ममता ने बोला.

इस परिवार की इस सारी चर्चा पर ममता कि चूत में एक अजीब सी सरसराहट होने लगी . उसकी चुंचियां टाइट हो कर उठ गयीं. अमर के लंड में भी जैसे जान आ गयी थी.

अमर बिस्तर छोड़ कर जमीन पर खड़ा हो गया. ममता ने देखा उसका लंड एकदम टाइट हो चुका था.

“आ जाओ जानेमन ….इस खड़े लंड का कुछ इंतज़ाम कर दूं….दोपहर की बात याद दिला कर मेरी चूत में भी पानी आ रहा है….” ममता पुकार उठी.

“ये हुई न बात. पर आज के दिन को थोडा और स्पेशल बनाएंगे ममता रानी.” कहते हुए अमर दरवाजे तक गया.

ममता हैरान थी कि नंगा बदन अमर कहाँ बाहर की तरफ जा रहा है.

दरवाजा खोल कर अपना चेहरा बाहर निकाल कर बोला,

“आ जाइए”

बस कहने की देर थी कि दो मिनट के अन्दर ही उसकी सासु माँ, उसके ससुर और ससुर के भाई साहब कमरे के अन्दर आ गए.

ममता को समझ आ गया कि उसकी जिन्दगी में अब चुदाई की तादाद अब जोरों से बढ़ने वाली है. और उसे इस बात से कोई शिकायत नहीं थी. जब उसके पति अमर की रजामंदी इसमें शामिल है तो उसे क्या ऐतराज़ होगा.

Pages: 1 2 3 4 5 6 7 8 9

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


neelu biwi ki chudai indian sex baxaar xxx kahaniचुदाईanyar vashna mamu bhanjihttps://buyprednisone.ru/mayke-aayi-ladki-ki-jalti-jwani/बच्चेदानी के मुंह तक लंड पहुंच गयाbahen ki chudai nahaya sex story writtenमामा ने मेरी और माँ की चूदाई कीAntarvasna baba ka ashrammardkanangabadanआँटी ने बस में मेजे से चुदाईदेवर राजा चोदो मेरी चुत को जोर जोर से कहानी हिंदी मेSafhed livash exbii storyचूतहिन्दी जोर दार चुदाई कि कहानीवीधवा भाभी ने मुठ मारी चुदाई की कहानीयाsex story ताई hindiगानाबुरमामा के सामने मामी की चुदाईमेरी जिद्द दीदी की चूत सेक्स स्टोरीस्तन मर्दन की कहानीGaw ke dehati kam umra wale schooli ladki ke garma garam chodai ke kahaniदेसी लड़की की नथ उतारी सेक्सfak mi yes ohh aaa सेक्स स्टोरीगांड मारने की कहानियाशादी की पहली चुदायीसांस समीर हिंदी सेक्स कहानीमामी की चुत की फांकों के बीचताई सेकस कहानीमैँने लंड हिला-हिला के पिया कहानीnokrani ki tino betiyon ki chudaiwww.indianreal kamak porn story badi didi ke chuddi hindi maहिंदी सेक्से दीदी का मोटा जिस्मbagabahar sex vidyosalma ne xhudwaya storypayal ke sath hotel me incest story part 2Hindi chudai baba guru mota lund jabardasti khun dard sex kahaniचूतअन्तर्वासना .मदमस्त चुदाई का मजाsex stories bhua ki papa ke sathआंटी को कंडोम लगा के छोड़ा हिंदी स्टोरीsex story ताई hindiमौसीजी ने तेल लगा के सेक्स किया हिंदी स्टोरीचुत मे दॅद लड के लिएदो लंडसे चुदाईMamma ko choda masaj karke khaniपोर्न वीडियोस हिंदी बेथ पापा बोलते होआआआआहह।dady ne mujhe 11ench ke land se choda stori and stori .comhindi kahani aunty ne dildo se mera gand marabus me anjaan se chudayiबहन के साथ पार्टी और सेक्सaunty k tarbuj jese chuchiya sex kananiyaमासूम बहु Incest(sasur-bahu) - Page 2 - Raj Sharma Storiesपैसे के लिए छूट छुड़वाईभाभी की चुदाई स्टोरी फ़ोन के बहानेबच्चेदानी के मुंह तक लंड पहुंच गयाबड़े लड़ से गैर मर्द से चुदाई कहानीnajneen ki chudai sex hindi storyचुसवाते हुए मदहोश होती जा रही थीआंटी के गानों की आंटी की चूतSapno ki barsaat antarvasna chudaiरिया दीदी की चुड़ै नींद में कहानियाँvasana बहन का सेक्स कहनीland chut ki nipal dabata hindi storyबाजी की ऊँगली मेरे लंड पर टच होआन लाईन चूदाई वीडीयोchoti bhan ko choda srdiyo meमौसीजी ने तेल लगा के सेक्स किया हिंदी स्टोरीकाली चुतHinde.sixey.store.com