जवानी बड़ी जालिम है

सर्वविदित है कि जवानी बड़ी जालिम होती है। ये जाने लड़कों और लड़कियों से क्या क्या करवा बैठती है। मुझे भी अपने कॉलेज के समय में एकलड़के से दोस्ती हो गई थी। उसका नाम सुधीर था। हम लोग मिलने के लिये अक्सर एक झील के किनारे आते जाते थे। यूं तो वहा कितने ही जोड़े आतेथे। पर वो सभी अपने आप में व्यस्त रहते थे। हम लोग वहां बस चाट और ठण्ड़ा ही लेते थे और बस यूँ ही बतिया कर चले आते थे।


पर हां, मेरे दिल में अब कुछ कुछ होने लगा था। मैं आज से चार साल पहले चुदाई का लुफ़्त उठा चुकी थी, पर फिर मै डर गई थी कि यदि मुझे गर्भ रहजाता तो क्या होता? पर नहीं हुआ। फिर कुछ दिन और चुदाया पर सावधानी रखी। आज फिर दिल में कुछ ऐसा ही हो रहा था। पर आजकल मैं भीऔरों की तरह पिल्स के बारे में जानती थी, और साथ में रखती थी।
एक दिन एक अच्छी अंग्रेजी पिक्चर देखने का सुधीर ने प्रोग्राम बनाया । कहता था कि मस्त मूवी है … मजा आ जायेगा। कॉमेडी मूवी थी। मैं उसकामतलब खूब समझ रही थी। वो हॉल में मुझसे खेलना चाहता था। जैसे ही मुझे ये लगा, मेरी चूत में पानी उतर आया। मैं मजे लेने के लिये तैयार थी।मेरी चूंचिया मसलवाने के लिये तड़प उठी। मेरी चूत में कोई अंगुली करे … हाय ये सोच कर मेरा शरीर वासना से भर उठा।
हम दोनों हाल में गये और एक कोने में बैठ गये … कम ही लोग थे। सुधीर बहुत ही उत्तेजित लग रहा था। बार बार मूवी की तारीफ़ कर रहा था। मुझेभी लगा कि जरूर मूवी अच्छी ही होगी। मूवी चालू हो चुकी थी। मुझे अंग्रेजी कम ही आती थी सो चुपचाप बैठी रही। सो सब कुछ सर के ऊपर सेनिकल रहा था। जब सब हंसते तो मै भी हंस देती थी। जोश में सुधीर मुझे हंसते हुये कभी पीठ पर मार देता था कभी कंधे पर। पर अब तो उसने मेराहाथ भी पकड़ लिया था। मुझे झुरझुरी आने लग गई थी। मैं अपने आप को हर प्रकार से तैयार कर चुकी थी। मुझे लगा कि वो जल्दी से मेरी चूंचियाँदबा दे … हाय राम … मेरी चूत में अंगुली घुसा कर मस्त कर दे … पर मैंने कुछ कहा नहीं, उसका हाथ और मेरा हाथ आपस में मिले हुये थे। वो कभीकभी मेरा हाथ दबा देता था।
अब धीरे से उसने अपना हाथ मेरे कंधे पर रख लिया। मुझे दिल में गुदगुदी सी हुई। मुझे लगा कि कुछ ही देर में वो मेरी चूंचियो पर आ ही जायेगा। पर्देपर चूमने का दृष्य चल रहा था। उसने भी मुझे गले से खींच कर अपने पास कर लिया और चुम्मा ले लिया। मै जान कर के उससे चिपक सी गई। हमारेसामने वाला जोड़ा जो साईड में सामने बैठा था, बिना किसी हिचकिचाहट के लड़की के बोबे मसल रहा था और उसे चूम रहा था। मैं तो उन्हीं को देखदेख कर उत्तेजित हो रही थी।
अचानक मुझे अब अपनी चूंचियो पर दबाव मह्सूस हुआ। सुधीर का हाथ मेरे स्तन को सहलाने लगा। हाय रे मजा आ गया … मैं झुक कर दोहरी होगई।
“ना करो, सुधीर … हाय हाथ हटा लो … ” मैंने भी शरीफ़ लड़की की तरह नखरे दिखाये।
“रजनी, कितने कठोर है तुम्हारे बोबे … मस्त है यार … ” सुधीर वासना भरे स्वर में बोला।
“आह … बस करो … ” मेरी सिसकी निकल पड़ी। पर सुधीर कहा मानने वाला था। उसका वो हाथ ऊपर से मेरी ब्रा में घुस गया और मेरी नरम नरम सीचूंचियां मसलने लगा।
उसने दूसरे हाथ से मेरा चेहरा ऊपर कर लिया और अपने होंठ मेरे होंठो से चिपका दिये। अब मेरा हाथ भी उसकी जांघो पर रेंगने लगा था। मेरे निपलकड़े हो गये थे और वो उसकी अंगुलियों के बीच में घुमा घुमा कर मसले जा रहे थे।
मेरा शरीर भी वासना से भर उठा। मैंने अपना सीना थोड़ा सा और उभार लिया ताकि वो मेरी चूंचियाँ भली प्रकार से दबा सके। उसका कड़क लंड मेरेहाथों में आ चुका था। मैंने कोशिश करके उसकी ज़िप खोल दी।
पर अन्दर चड्डी के रूप में एक बाधा और थी। जल्दी ही ये बाधा भी मैंने पार कर ली और उसका मूसल जैसा लण्ड पकड़ ही लिया। गरम गरम कड़ाडण्डा, थोड़ा जोर लगाया तो वो पेण्ट से बाहर आ गया।
“हाय रे … ये तो बहुत मोटा है … देखो तो कैसा हो रहा है … ” मैंने सिसकते हुये कहा।
उसके सुपाड़े के सिरे पर चिकनापन लग रहा था, शायद उत्तेजना में उसमें से चिकनाई बाहर आ गई थी। उसने भी अपना हाथ मेरी छातियों पर से हटाकर मेरी चूत पर रख दिया था। मेरी सलवार के अन्दर हाथ घुसा कर मेरी गीली चूत को रगड़ दिया।
“मैं मर जाऊंगी रे … धीरे से करना … ! ” उसका हाथ जैसे ही मैंने अपनी चूत पर मह्सूस किया, उसे धीरे से समझा दिया। मेरी गीली चूत में उसकीअंगुली उतरी जा रही थी, मैंने भी अपनी चूत को थोड़ा सा ऊपर उठा कर उसे अंगुली घुसाने में सहायता की। मेरा जिस्म अब मीठी मीठी गुदगुदी सेभर चुका था।
“रजनी, चुदोगी क्या … मेरे लण्ड की हालत खराब हो रही है … ” उसकी सांस फ़ूली सी लगी। उसने मेरे मन की बात कह दी। चूत फ़ड़क उठी।
“हां सुधीर … चुदने के चूत बेताब हो रही है … पर कैसे … ” सिसकती हुई सी बोली।
“मेरे घर चलें क्या ? वहाँ कोई नहीं है … मस्ती से चुदना … ”

यह कहानी भी पड़े  मीना आंटी का देसी रंडवा

Pages: 1 2 3

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


Bur Ka chaska khaniअन्तर्वासनामेरा लंड सिकंदर बड़ी साली की चूत के अन्दर-4bina undergarment wali ki antarvasnaपतली लड़की की चूतभुरि लडकी का शेकशmajor sahb deenu pani kitchenxxx achi zzz 2018 bhuo kahaniरागिनी और उसके बहनो की सेक्सी कि चूत चुदाई बुर फाड कहानियाantarvasnasxe sorry.comसेकसीलडकीशेकश कदी नवीन बिबिpapa NE mere chuche dabaye Hindi sex khaniya मम्मी पापा सेक्स स्टोरी हिंदीमाँ और फूफा जी हिंदी सेक्स स्टोरीSexy modern skirt mausi sexy kahani hindiरोज की चुदाईmere stan ki phuli hui tight golai hindi sex storyराज शर्मा हिंदी सेक्स स्टोरी माँ बेटा खेत मेंDelvre ki chot se aane ki khneyamashab ne medam ki choodai ki kahaniGundo se lagatar chudai ki kahaniलड़के से अपना दूध कैसे चुसवाए??New xxxxstori panjabi vidyoभूसे के कमरे में चुदाईचूचे कि चूदाईछूट को कैसे सहलायेrajai me chhoti ladki se chudai ki kahaniyaमामी की चूदाई कथाjawanladkichootसमधी से चुदवायाकमला बहु और ससुरbachpan ma ak साथ में ही नाहते थे। antarvasnaमेरी सेक्सी कहानी होटलमदमस्त अंगड़ाईअनजाने में माँ की चुदाईकपल ने थ्रीसम सेक्स का मज़ा लियाNukrani ki choot fadiकच्ची उम्र मे शील तोड़ी स्टोरीचूत के छेद में मोटा सुपाड़ाbeizzat mat karo hindi sex storiesSavata bahbhi kay davarbahbhi six kahiya hind marathmabeta chodaistoresबाड़मेर से चुदाई कहानीMadam ko class me choda antervasnaAntarvasna xxx didi Barsatghasai wali video sexमोबाइल लडकी गाँव सफर कहानीantarvasna केवल माँ और हिंदी में samdhi सेक्स कहानियाँसोना चुदाईग्रुप में दर्द चुदाई कहानीसेकसीलडकीके पेटीकोट का नाड़ा सेक्स स्टोरीजjaglo.ki.chudae.do.ghnte.videomere stan ki phuli hui tight golai hindi sex storyBhopurt sexci videoĐịt nhau trong bếpअन्तर्वासनाTAI KI CHUDAI KI KHANIYAxxx ghachak ghachak chudai jabarjastiरात में छत पर लड़के का अंडरवियर खोलाmame ne didi ko chudwaya माँ बेटे की चुदाई कहानियाँ दिखाएअन्तर्वासनामेरी बाहें मेरी रखैलदोस्त के मम्मी की मस्त चुदाईचूतमम्मी पापा से चुदकरantarvasnasamuhik magha sex hindi storymaidm sa pyar stori xxxमौसी थोड़ा ऊपर बैठी थी जिससे उसकी चूत से निकली पेशाब की धार दिखाई दे रही थीमौसीजी ने तेल लगा के सेक्स किया हिंदी स्टोरी