बस में मिला एक नौजवान के साथ कामुकता

मैं: ‘पागल हो क्या’!

यह कह कर मैंने मोबाइल काट दिया.

जब मैंने मोबाइल बिस्तर पर फेका तब तक मैं इतनी गीली हो चुकी थी की अनायास मेरा हाथ चूत पर चला गया और उसी हालत में मेरी उसकी हुयी बात को याद करते हुये मैं मास्टरबेट करने लगी. मेरी उंगलियां मेरी गीली चूत के अंदर बहार हो रही थी और मैं अपनी क्लिट को भी बेरहमी से रगड़ रही थी. मैं लड़के की हिम्मत के बारे में सोंच रही थी, जो मुझसे २० साल छोटा था लेकिन बड़े अधिकार से मुझ से बिना पैंटी के साडी पहनने के लिए कह रहा था ताकि वोह भरी बस में खुले आम मेरे चूतरो से और मस्ती ले सके. सेक्स की इस असीम चाहत से मैं रोमांचित हो उठी और मेरी चूत ने पानी छोड़ दिया. मैं बिस्तर पर पड़े पड़े उसी के बारे में और उससे हुयी बातो के बारे में सोचती रही. मैंने उसका नंबर अपने मोबाइल में, एक लड़की के नाम सेव कर लिया. तब मुझे ध्यान आया की अभी तक न मैंने अपना नाम उसे बताया था न उसने ही अपना नाम मुझे बताया था.

अगले दिन जब मैं अपनी बेटी को छोड़ने के लिए तैयार हुयी तब मुझे कल वाली उसकी बात ध्यान में आयी. मैंने शीशे में अपने आपको घूरा और मैंने अपनी साडी पेटीकोट उठा कर एक झटके में पैंटी उतार दी. मैं जब बाहर निकली तो बिना पैंटी के मुझे बड़ा अजीब लग रहा था. लग रहा था मेरी चूत भरे बाज़ार नंगी होगयी है और मेरी झांघो के बीच वोह रगड़ी जा रही है.मैं अंदर ही अंदर बहुत उतेजित भी थी और सोंच भी रही थी, हे भगवान! मैं यह क्या कर रही हूँ! वह भी एक २० साल के प्रेमी के लिए! मैं जब बस स्टॉप पर पहुँची वह लड़का वहाँ पहले से ही खड़ा था. उसने जीन्स और टी शर्ट पहने हुयी थी, हमारी आँखे मिली और हमने नज़र घुमा ली, जैसे हम दोनों एक दुसरे को नहीं जानते .

हमेशा की तरह मैं हैंडल पकड़ कर खड़ी होगयी और वोह लड़का धक्का देता हुआ ठीक मेरे पीछे आकर खड़ा होगया. उसने फ़ौरन मेरी कमर के नीचे हाथ रख कर मेरी पैंटी को महसूस करने की कोशिश की. जब उसको इसका एहसास हो गया की आज मैंने उसके कहने पर पैंटी नहीं पहनी है तब उसने मेरे चूतरो को थप थपा दिया, जैसे वोह मुझे धन्यवाद दे रहा हो. बिना पैंटी के जब उसके हाथ मेरे चूतरो के ऊपर पड़े मैं बिना दांत भीचे नहीं रह पायी. आज पहली बार उसके उद्वेलित हाथो की गर्मी मेरे चूतरो पर सिर्फ साडी के ऊपर से महसूस कर रही थी. मैंने थोड़े पैर और फैला दिया और जैस मुझे उम्मीद थी उसका कड़ा लंड मेरे चूतरो की दरार से रगड़ खाने लगा. आज वह अपना लंड वही रगड़ रहा था और मेरे चूतरो को मसल भी रहा था,मैं बिलकुल अलग दुनिया में पहुँच गयी थी, उस भीड़ भरी बस में मैं वासना के उस सागर का सुख ले रही थी जो मेरी शादी के १८ साल बाद भी अभी तक मुझसे महरूम था. पुरे रास्ते उसका लंड मेरे चूतरो पर रगड़ता रहा और मेरी चूत भी आज कुछ ज्यादा गीली हो गयी थी. आज मैं पैंटी नहीं पहने थी , मेरी चूत का पानी बहकर मेरी जांघो पर आगया था. जब उसका स्टॉप आया वोह उतरने के लिए आगे आया और जाते जाते धीरे से मुझे ‘थैंक्स , कॉल मी’ कहते हुये आगे बढ़ गया. मैं मूर्ति की तरह वैसे ही वैसे खड़ी रही.

यह कहानी भी पड़े  रिहर्सल में हिरोइन को चोदा

मैं जैसे तैसे घर पहुँची और घुसते ही रुमाल से मैंने अपनी बहती हुयी चूत को पोंछा और उसको मोबाइल लगा दिया.

वोह: ‘हाय दिलरुबा!’

मैं: ‘हम्म्म’.

वोह: ‘थैंक्स, मेरी इच्छा पूरी करने के लिए’.

मैं: ‘ हाँ, मैं बच्चो को निराश नहीं करती’.

यह कह कर हॅसने लगी और वह भी हॅसने लगा.

वोह: ‘हम कब मिल सकते है?’

मैं चुप हो गयी. मिलने की इच्छा मुझे भी होने लगी थी और मन मानने लगा था की उससे मिलने में कोई बुराई और खतरा नहीं है. लेकिन परेशानी थी की मैं उससे कहाँ मिल सकती हूँ?

मैं: ‘मुझको नहीं पता. कोई ऐसी जगह नहीं समझ में आती जहाँ मैं तुमसे मिल सकू’.

वोह: ‘मैं आपको अपने घर नहीं ले जा सकता, मेरी माँ हमेशा घर रहती है. आपका घर कैसा रहेगा?’

मैं: ‘मेरा घर?’

उसने जब मेरे घर की बात की तब मैं सोचने लगी की बात सो सही है, मेरी नौकरानी १२ बजे चली जाती थी और ४ बजे मैं अपनी बेटी को लेने स्कूल के लिए निकलती थी. १२ से ४ के बीच मैं घर पर बिलकुल ही अकेली रहती थी. मैंने बिना हिचके उसको १२:३० बजे का समय दे दिया और अपने मकान का पता बता दिया.

अगले दिन वह बस स्टॉप पर नहीं दिखा , मैं घर ऑटो रिक्शॉ पकड़ कर जल्दी आगयी. नौकरानी को भी मैंने जल्दी कम ख़तम करने को कहा और १२ से पहले ही उसे भी घर के बाहर कर के दरवाज़ा बंद कर दिया. उसके जेन के बाद मैं बिलकुल एक कामातुर प्रेमिका की तरह कपडे निकलने लगी. मैंने अब स्लीवलेस काले रंग का ब्लाउज पहन लिया जिसकी बैक खुली थी और उसके साथ सफ़ेद रंग की साडी जिस पर काले पोल्का डॉट पड़े थे पहन ली. बड़ी अजीब बात थी, यह साडी मेरे पति की पसंदीदा साडी थी , जो उन्होंने मुझे शादी की १५ वीं वर्ष गांठ पर दी थी. जब मैंने पहली बार इस साडी को पहना तो उन्होंने मुझसे कहा था, की मैं बहुत सेक्सी लग रही हूँ और उन्होने वही साडी उठा कर मुझे जल्दी से चोदा और उसके बाद ही हम लोग बाहर खाने पर गए थे. मैंने साडी पहन कर अपने आप को शीशे में निहारा और अपने पर रश्क कर बैठी, मैं आज भी इस साडी में बहुत सुन्दर और सेक्सी लग रही थी.मैं अपने को निहार ही रही थी कि तभी बाहर दरवाज़े पर घंटी बजी. मैं एक बार ठिठकी , एक बार और अपने को देखा और फिर दरवाजा खोलने चली गई.

यह कहानी भी पड़े  डेरे वाले बाबा जी और सन्तान सुख की लालसा-1

Pages: 1 2 3 4 5 6 7 8

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


छिनाल पैदा माँ बेटा चुदाईतैरना सिखाने में चुदाईten thái lan porn ra nhiều nướcऋतु पर खुला चुदाईDesi hindi bade doodh waali aunty ko bus me choda hindi kaamuk storymetro cudayi karte huai videoसिस्टर सेक्स स्टोरी इन ट्रेनट्यूशन के बहाने चुदाई सेक्स स्टोरीMausi aur maa ki tubewel pr chudai ki मैँने लंड हिला-हिला के पिया कहानीमेरी गांड भी बहुत ही बुरी तरह से मारता थामोम की मजबूरी में ग्रुप चुदाई देखीभाबी की अधूरी प्यास राज सेक्स कहानीसविता भाभी की सचित्र सेक्स कहानीचुची चुसाती चूत चुसाती वीडिओ पोर्नdesi pabhi hanjra wali pabhisex www.damad ne choda sas ko sex stori hindi metantrikne choda muje or meri betiko sex storyभीगे कपड़ों में लड़की की चुदाई सेक्स स्टोरीचोदन डोट काम,Mummy ke najayaj sambandh antarvasnaNew sexi story कमलाGulabihoth chus ke chudai ki kahaniसेक्सी रंडी की चुदाई ब्लू फिल्ममाँ की गोल गोल गाँडAntervasna ghar m bhaga bhaga kरीतु चुदाई दीदी शरदीantarvasna muh me mutnaभाभी ने चुत मारना सिखायाछोटी बहन के छोटे स्तनदीदी के देवर से चुदाईएक बार लौडा दे दे कमीनेbhabhi ne tange kholkarआंतों की गांड कैसे माराmousi ne lode ki bhikh mangiकमला मेरी बहन incestएक भाई की वासनाdoctor ke pas gaya की चुदाई कहानियाँ .comचुतहलकीनंगी आरजू -1 अन्तर्वासना सेक्स स्टोरी मा को ब्रा पसंत है सेक्सी हिंदी कहाणीनंगीजवानलडकिया अंग प्रदर्शन कर रही होमाँ और बुआ को एक साथ बेटे ने छोड़ा घर परमामी सुहागरातtau ki ladki ko us k sasural me sex storyofhish me fhak hindi xxxantarvasna taiaunty ki chudai me cockroach ghus Gaya Hindi sex storywww.indianreal kamak porn story badi didi ke chuddi hindi maNadan,sex,storiमहिला lisban xnxxstoryMaa ne unka raj bataya sex storiचुत.alluremkamuktaगांड़ चाटनेantervasna,com foji untisheela.xxx.hindi.kahaniXxxmoyeeठंडी मे दोसत की बीवी की चोदाई की कहानीFufa Aur mummydada ke samne poti ki chudai kahaniAnjan auntyki chudai sex kahani xxx picDo ghodi ek ghod swar sex story Hindiबुर ki safai rezar she xxxनदी किनारे सेक्स स्टोरी हिन्दीभाभी ने मुंह पर मुठ्ठ माराHindi sex kahani taibahanchod bhai bahan ki chut maregarajai me chhoti ladki se chudai ki kahaniyaअकेले घर में पड़ोस की लड़की को बहाने Sex storyदीदी चोद लेने दोमेने गालियां दे देकर चुत चुदवाईmasag palar vale kee antrvasnasexy bicany kgaridi storyचुदाईkallu sexy bra bhabhi kahaniyaजयपुर की लड़की चूत फोटोचाची के भारी नितंब चुदाई कहानीjudwa chakkar savita bhabhi kadi free download pdfRajsarma sex stori hindisheela ki sasurji se chudai sex storieschut ko land se chudaiचुचीएक बार पूरा घुसा दे लौडा कमिने कहानीBhu sasur porn padhe hindiXxx sotary mom teranबुर चोदाईfak mi yes ohh aaa सेक्स स्टोरीअनकंट्रोल सेक्सीय माँ स्टोरीय सेक्स वीडियोकेवल तेल शे चुत ओर लँड की मलिश चुदाइ Hindi sex storisअंकल के साथ ड्रिंक चुदाई २