सायबर-कैफ़े में वंदना की चुदाई

मेरा नाम सबीर है और मैं भोपाल का रहने वाला हूँ।

मैं बहुत समय से निरंतर अन्तर्वासना का पाठक हूँ। बहुत समय से सोच रहा था कि कभी अपनी कहानी भी आप सबको बताऊँ।

वैसे तो दिखने में बहुत शरीफ हूँ, पर असलियत तो मेरे साथ समय बिताई हुई लड़कियाँ ही बता सकती हैं।

मैं एक प्राइवेट बैंक में टीम लीडर हूँ और एक टीम लीडर के लिए लड़कियों की कभी कमी नहीं रहती है।

कई लड़कियाँ अपना कैरियर बनाने के लिए कुछ भी करने को तैयार रहती हैं। ऐसे ही मेरी मुलाकात हुई भोपाल में एक लड़की से जो जॉब की तलाश कर रही थी। मैंने उसकी मदद की और अपने बैंक में जॉब दिला दी।

उस लड़की का नाम वंदना है। वंदना एक बहुत खूबसूरत और चुदक्कड़ लड़की है। उसे रंडी बनने का काफी शौक है, पर बाजारू रंडी का नहीं।

मैंने उसे जॉब दिलाई तो वो मुझसे काफी करीब हो गई थी। बस फिर क्या था हम दोनों लीड का बहाना लेकर हमेशा बैंक के बाहर रहने लगे।

वो तो पता नहीं कब से मुझसे सेक्स करना चाहती थी। एक दिन हम बैठे हुए थे।

मैंने उससे पूछा- मैं तुम्हें कैसा लगता हूँ? और पूछते हुए उसकी आँखों में देखने लगा और उसका हाथ पकड़ लिया।

वो मुझे देखती रही और प्यार से मुस्कुरा कर कहा- आप पर तो सारे ब्रांच की लड़कियाँ मरती हैं, पर शायद मैं लक्की हूँ कि आप मुझसे ये पूछ रहे हो।

बस इतना कह कर उसने मेरा हाथ पकड़ लिया और मुझे किस करने लगी।

मैंने जितना सोचा था, वंदना उससे कही ज्यादा बड़ी चुदक्कड़ थी। उसने मुझे इस कदर चूमना शुरू किया की मैं दंग रह गया।

वो मेरे होंठों के अंदर अपनी जीभ डालकर इतना अच्छे से किस कर रही थी।

यह कहानी भी पड़े  होली में जम कर चुदाई करवाई

मैं तो पागल होने लगा था, फिर मैंने भी धीरे से उसकी कुर्ती में हाथ घुसाना चालू किया।

जब मैंने देखा कि वो मना नहीं कर रही है, तो मेरा भी हौसला बढ़ गया और मैंने अपना हाथ अंदर डाल कर उसके गोल-गोल दुग्धउभारों को दबाना शुरू कर दिया।

वो पागल सी होने लगी और जोर-जोर से साँसें लेने लगी और मचलने लगी।

मैंने सोचा कि आज मौका अच्छा है, इसे कहीं पर ले चलता हूँ। मेरा रूम उस दिन खाली नहीं था।

मैंने उससे कहा- मेरे साथ चलोगी? जहाँ हम बिना किसी के डर के सब कुछ कर सकें।

तो उसने हाँ कर दी। पर कोई भी जगह मुझे नहीं मिली, वो तड़फ रही थी और मेरा भी हाल खराब हो रहा था।

मैं उसे अपने एक दोस्त के सायबर-कैफ़े पर ले गया। वहाँ केबिन में जाकर मैंने उसे चूमना शुरू किया और वो पागलों की तरह मेरा साथ देने लगी। वो अपने हाथों से मेरा लंड दबाने लगी। मेरी जीभ से अपना जीभ टकरा कर मेरा सारा रस पीने लगी। वो एकदम पागल हो चुकी थी।

उसने कहा- तुम मुझे चोद दो।

वो जगह चोदने के लिए सही नहीं थी। फिर भी मैंने पहले उसके कुर्ती को निकाला। उसके मस्त मम्मे देख कर ऐसा लगा कि खा जाऊँ। उसके दूध के कलश बहुत प्यारे थे।

मैंने प्यार से उनके नाम ‘मोनू’ रख दिए और उसके एक दूध को जब मैं चूस रहा होता, तो दूसरे को अपने हाथों से मसल रही होती।

सेक्स कूट-कूट कर भरा था साली में, उसने खूब दूध चुसवाए। हम बहुत समय तक चूसने का काम ही करते रहे।

वो अब एकदम पागल होकर जोर-जोर से साँसें लेने लगी और मुझसे अपने आप को चिपकाने लगी। फिर वो मेरे लड़ को पकड़ कर अपने बुर में घुसाने के लिए जिद करने लगी।

यह कहानी भी पड़े  मस्त अनुभव हॉट भाभी के साथ

तो मैंने उसे कंप्यूटर टेबल पर बैठाया और उसके पजामे को उतार दिया। अपने हाथ से उसकी चूत को मसलने लगा, तो वो और पागल हो गई।

“जान अब तो चोदो मुझे।”

मैंने पहले उसकी पैंटी उतारी और उसकी चूत में अपनी ऊँगली चलानी शुरू कर दी। उसे ऐसा लगा जैसे वो जन्नत में पहुँच चुकी है।

वो और तड़पने लगी। फिर मैंने उसकी चूत पर अपनी जीभ रखी और उसकी दरार में घुमाने लगा।

वो मेरे सर को पकड़ कर जोर-जोर से अपनी चूत पर दबाने लगी और अपनी दोनों टाँगों को फैला कर अपनी चूत में मेरा मुँह घुसाने लगी।

मैंने भी अब अपने जीभ की रफ़्तार बढ़ा दी। कभी मेरी जीभ उसकी चूत के अंदर होती तो कभी उसके होंठों पर होती।

उसने मुझे चोदने को कहा तो मैंने कहा- ठीक है। और मैं अपने कपड़े उतरने लगा तो उसने मेरा हाथ पकड़ा और खुद मेरे कपड़े उतारने लगी।

मेरी चड्डी निकलते ही अपनी दोनों टाँगे चौड़ी करके मेरे लंड को अपने बुर में घुसाने लगी।

मैं उसे अच्छे से चोद नहीं पा रहा था, क्योंकि सायबर-कैफ़े के केबिन में जगह बहुत कम थी। सो मैंने अपनी ऊँगली उसके चूत पर घुसा दी।

साली का चूत था या भोंसड़ा। मैंने अपनी तीन उंगलियाँ घुसा दीं, फिर भी उसे दर्द नहीं हुआ। और अपने चूतड़ हिला-हिला कर मेरी ऊँगली से चुदती रही।

Pages: 1 2

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


हाम बिसतरीnepali bhabhi ki cudai ki kheta me sex kahanistory sex बहाना बनाकर maa keGrop antrwasnaआंटी पैंटी पेट मालहहह उम्म्ह सेक्स स्टोरीTAI KI CHUDAI KI KHANIYAमैं मेरी सहेली ने मेरी चूत चुदाई गैर मर्द के मोटे लुंड सेantervsna aunti or bhabhimammi ko hum sabane milke chodaसेकसी खुबसुरत लडकियो का देवर के व नौकर के साथ व आनटी के साथ व बहन के साथ सेकसि चुदाई की हिनदी कहानीरण्डी की चुदाई कहानीpart chudai kahaniyabidhwa..nokrani.didiसेक्स कहानियाँ बहन की मद्द से भाबी को चोदा तो चुत फट गयीब्लू फिल्म चुदाईचूत का नसामम्मी पापा सेक्स स्टोरीताई कि चुदाईxxx bshuji ki chudahi2018 की नंगी सेक्सी मौसी और बेटे की नंगे दूध खुले फोटो hdHindi siskibhari sexअन्तर्वासना भाई बहन दारू पी केचूतbegani shadi mai bhen ki chut or gand fadi hindi storyमुझे टांग उठा कर चुदना हैचोदा चोदी की फोटोmardkanangabadanFrind ke sade me sex vedio hindeसुहागरात को बीवी को चोदindansexbhaiXXX aakhir beta kiska hai Hindi chudi storyहिनदी पापा चोदोहलकि किचुदाइमामी की चूदाई कथाहिंदी परिवार सेक्स स्टोरीजAntarwasnaमधु कि बुय चोदाईसेक्स स्टोरी भाभी और प्यूनkiraye pr makaan dene k chudaai ki kahaaniमैंने धीरे से उसकी स्कर्टXxnxxx BHEJUR 2014मम्मी की सहेली की चुदाईपापा ने धीरे धीरे लंड घुसायापत्नी को चुदते देखा सेक्समेरी कमला भाभी कि प्यास बझाईIndiansexstoresनई हिंदी सेक्सी स्टोरी २०१८चुदाई किरंगीन कहानीगर्लफ्रेंड को चोदा कहानीबहन, भाई, का, बुर, चुकायी, आडीओचुतकी सीलland chut sax khaniHindi sexy mausi asceticswamiji kisex kahaniyanभैया मेरे बूबस पर मूतोमासूम बहु Incest(sasur-bahu) - Page 2 - Raj Sharma Storiesमम्मी को बेटे ने 11इच के लौडे से चोदा सेकस ईटोरीten thái lan porn ra nhiều nướcAntarvasna aunty dekh ke xossipचुत फिगरNukrani ki choot fadiXxx.मामि भाजीchachara bhai say chodaiभाभी की बूब दबा मजे कियाyatra me risto me hui chudai ki hindi storyमौसी थोड़ा ऊपर बैठी थी जिससे उसकी चूत से निकली पेशाब की धार दिखाई दे रही थीswamiji kisex kahaniyanकिरायेदार अंकल ने गांड मारीनदी किनारे सेक्स स्टोरी हिन्दीचुदकर चुदाईsalma ne xhudwaya storybhabhi masage sex khani