चाचीजान के बदन की गरमी

मेरा नाम इम्तियाज़ है। बात उन दिनों की है जब मेरी उम्र 19 साल की थी और मैं इंजीनियरिंग के पहले साल में बंगलौर में पढ़ रहा था। मैं बनारस का रहने वाला हूँ। मेरे एक्जाम समाप्त हो गए थे तो कुछ दिनों की छुट्टियों में घर आया था। हमारा संयुक्त परिवार है, मेरे परिवार के अलावा मेरे चाचा एवं चाची भी साथ में ही रहते थे। मेरे चाचा पेशे से सैनेटरी वेयर के थोक विक्रेता थे, उन्होंने काफी पैसा कमा रखा था। उनकी शादी को कई साल हो गए थे लेकिन अभी तक कोई संतान नहीं थी। चाची की उम्र 29 साल की थी, वो पास के ही एक गाँव की हैं ! थी तो देहाती पर मस्त चीज थी, उनकी जवानी पूरे शवाब पर थी, झक्क गोरा बदन और कंटीले नैन नक्श और गदराये बदन की मालकिन थी, चाचा चाची ऊपर की मंजिल में रहते थे।

जब चाचा दुकान और मेरे अब्बू अपने दफ्तर चले जाते थे तो मैं और चाची दिन भर ऊपर बैठ कर गप्पें हांका करते थे। चाची का नाम आरज़ू है। सच कहूँ तो वो मुझे अपना दोस्त मानती थी। वो मेरे सामने बड़े ही सहज भाव से रहती थी, अपने कपड़े भी मेरे सामने ठीक से नहीं पहनती थी, उनके वक्ष की आधी दरार हमेशा दिखती रहती थी, कभी कभी तो सेक्स की बात भी कर लेती थी। जब भी मुझे अकेली पाती थी तो हमेशा द्वीअर्थी बात बोलती थी, जैसे बछड़ा भी दूध देता है, तेरा डंडा कितना बड़ा है? तुझे स्पेशल दवा की जरुरत है, आदि !

दिन भर मेरे कालेज और बंगलौर के किस्से सुनती रहती थी।

जब मेरे बंगलौर जाने के कुछ शेष रह गए तो एक दिन चाची ने कहा- हम भी बंगलौर घूमने जाना चाहते हैं।

मैंने कहा- हाँ क्यों नहीं ! आप दोनों मेरे साथ ही इस शनिवार को चलिए, मैं आप दोनों को पूरी सैर करवा दूँगा।

यह कहानी भी पड़े  मेरी सहेली की मम्मी की चुत चुदाइयों की दास्तान-1

चाची ने अपनी इच्छा चाचा को बताई तो चाचा तुरंत मान गए। मैंने उसी समय इन्टरनेट से तीन टिकट एसी फर्स्ट क्लास में बुक करवा लिए। शनिवार को हमारी ट्रेन थी, शनिवार को सुबह हम तीनों ट्रेन से बंगलौर के लिए रवाना हुए। अगले दिन शाम सात बजे हम सभी बंगलौर पहुँच गए। मैंने उनको एक बढ़िया होटल में कमरा दिला दिया। उसके बाद मैं वापस अपने होस्टल आ गया। होस्टल आने पर पता चला कि कालेज के गैर शिक्षण कर्मचारी अपनी वेतनवृद्धि की मांग को लेकर अनिश्चित कालीन हड़ताल पर जा रहे हैं और इस दौरान कालेज बंद रहेगा। मेरे अधिकाँश मित्रों को यह बात पता चल गई थी इसलिए सिर्फ 25-30 प्रतिशत छात्र ही कालेज आये थे।

मैं अगले दिन करीब 11 बजे अपने चाचा के कमरे पर गया, वहाँ वे दोनों नाश्ता कर रहे थे। चाची ने मेरे लिए भी नाश्ता लगा दिया। मैंने देखा कि चाचा कुछ परेशान हैं।

पूछने पर पता चला कि जिस कम्पनी का उन्होंने फ्रेंचाइजी ले रखा है उस कम्पनी ने दुबई में जबरदस्त सेल ऑफ़र किया है, अब चाचा की परेशानी यह थी कि अगर वो वापस चाची को बनारस छोड़ने जाते और वहाँ से दुबई जाते तो तब तक सेल समाप्त हो जाती और अगर साथ में लेकर दुबई जा नहीं सकते थे क्योंकि चाची का कोई पासपोर्ट वीजा था ही नहीं।

मैंने कहा- अगर आप दुबई जाना चाहते हैं तो आप चले जाएँ क्योंकि मेरा कालेज अभी एक सप्ताह बंद रह सकता है। मैं चाची को या तो बनारस पहुँचा दूँगा या फिर आपके वापस आने तक यहीं रहेगी। आप दुबई से यहाँ आ जाना और फिर घूम फिर कर चाची के साथ वापस बनारस चले जाना।

चाचा को मेरा सुझाव पसंद आया।

चाची ने भी कहा- हाँ जी, आप बेफिक्र हो कर जाइए और वापस यहीं आइयेगा। तब तक इम्तियाज़ मुझे बंगलौर घुमा देगा। आपके साथ मैं दोबारा घूम कर वापस आपके साथ ही बनारस जाऊँगी।

यह कहानी भी पड़े  क्लास की हॉट लड़की की चुदाई

चाचा को चाची का यह सुझाव भी पसंद आया।

लैपटॉप पर इन्टरनेट खोल कर देखा तो उसी दिन के दो बजे की फ्लाईट में सीट खाली थी। चाचा ने तुरंत सीट बुक की और हम तीनों एयरपोर्ट के लिए निकल पड़े। दो बजे चाचा की फ्लाईट ने दुबई की राह पकड़ी और मैंने एवं चाची ने बंगलौर बाज़ार की।

चाची के साथ लंच किया, घूमते घूमते हम मल्टीप्लेक्स आ गए। शाम के सात बज गए थे, चाची ने कहा- काफी महीनों से मल्टीप्लेक्स में सिनेमा नहीं देखा, आज देखूँगी।

मैंने देखा कि कोई नई पिक्चर आई थी, इसलिए सारी टिकट बिक चुकी थी। उसके किसी हाल में कोई एडल्ट टाइप की इंग्लिश पिक्चर की हिंदी वर्सन लगी हुई है, फिल्म चार सप्ताह से चल रही थी इसलिए अब उसमें कोई भीड़ नहीं थी।

मैंने दो टिकट सबसे कोने के लिए और हम हाल के अन्दर चले गए। मुझे सबसे ऊपर की कतार वाली सीट दी गई थी और उस पूरी कतार में दूसरा कोई भी नहीं था। हमारी कतार के पीछे सिर्फ दीवार थी, मैंने जानबूझ कर ऐसी सीट मांगी थी। मेरा आगे वाले तीन कतार के बाद कोने पर एक लड़का और लड़की अकेले थे, उस कतार में भी उसके अलावा कोई नहीं था। उससे अगली कतार में दूसरे कोने पर एक और जोड़ा था, इस तरह से उस समय 300 दर्शकों की क्षमता वाले हाल में सिर्फ 20-22 दर्शक रहे होंगे। पता नहीं इतने कम दर्शकों के लिए फिल्म क्यों लगा रखी थी।

Pages: 1 2 3 4 5 6

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


रिता कि चुदाईसुमन ने लंड चूसाrajai me chhoti ladki se chudai ki kahaniyaबुआ की सील तोडीसुहागरात पर मेरी सील टूटीanterwaanaभूसे के कमरे में चुदाईनीग्रो से चूत चुदायी की कहानियाँchorni ki hindi sex khaniyaXXNXX COM. मेरी चूत कि चमड़ी चाटने लगा सेक्सी विडियों duur se chudwate dekha sex storysarif larki ki seal todi bahana banakar in hindiवहशी लण्ड से गांड बुआ दीदी ने बुर चोदाना शिखय की कहानी हिन्दी मेदीदी को बेहोश कर चुची चुसाईबुर सूज ठीक से चल कसी रगड़पहला सेख्स अनुभवमेरा परिवार और तेल मालिश चुदाई की कहानीshuhagrat pe gannd msrisex storyChachi ko bhuse me choda khet hindi chudai kahaniSasur bahu ki damdar chudaiमेरी सेक्सी कहानी होटलKulho ki gahri khai me jeeb dala chudai kahaniyaमेरी बहन का रंडीपन सेक्स कहानीhot sex kahani pyar bhara pariwar me baleckmel kiyaयात्रा में माँ बेटे की चुदाई कहानीलंड के साथ चूत चुदवाती बीएफहिन्दी जोर दार चुदाई कि कहानीJabanladki ko jabarjasti lund chusa ke chodaXxx.sex.ma.bheta.bavu.kahaniya.comबुआ की सील तोडीSex bare chuchi and chut or bare landधोखा चुदाईrati kriya kahani hindiBadsurat aurat Hindi sex storyबीबी के बदले दीदी की अंधेरे में चुदाई कर लेने की कहानीदुकान मालकिन ने चोदना सिखाया.commaa ne dilwaya papa ka lund porn khaniरोज अपने भाई का लौड़ा चूसती हूँchhinal bahu chudakkdबुर से पानी निकलते देखाpapasechudai storisमामा के सामने मामी की चुदाईdesi gand msrisexchor ne nanga nahate choda storisamuhik sex humera hindi historyristo ma hindi xxx chudi story 2019शादी में गैर महमान से चुदाईअंकल बेटे मिली भगत माँ की चुदाईबुबस को दबाकर लाल कर दिएमामी भांजे क xxx.commaal se bachadaani bar do storyहिंदी सेक्स स्टोरी स्कर्ट और पतली पैंटीbra aur painti se pyaar sex storiy hindiमेरे कमपुटर सेंटर पर मेरी बीवी की चुदाई देखीwww.chod.chod.ke.ruladiya.hindi.sex.kahaniमाँ बहन को एक साथ छोड़ा क्सक्सक्स दोनों देखा केsavitaki sex aapviti kahaniChudai like lambi kahaniya Hindi sez storyhindi ghar me maa didi bua ke dildo se chudai kahaniहिंदी परिवार सेक्स स्टोरीजchudasi auntiyan storyपरिवार मे चुदाई - ये कैसा ससुरालचुत ताई कीकोमल की कामुक कहानिया चूत चोदने का मजाxxx khani halaki meri gand ka ched khula hua thaखडी चुदाईकहानीtai cudai hindi sex storyताई को पेशाब करते देखा सेक्सी स्टोरीलम्बी चुड़ै कहानी विलेजTreesham sex kiya khub ganda sex story