चाचीजान के बदन की गरमी

मेरा नाम इम्तियाज़ है। बात उन दिनों की है जब मेरी उम्र 19 साल की थी और मैं इंजीनियरिंग के पहले साल में बंगलौर में पढ़ रहा था। मैं बनारस का रहने वाला हूँ। मेरे एक्जाम समाप्त हो गए थे तो कुछ दिनों की छुट्टियों में घर आया था। हमारा संयुक्त परिवार है, मेरे परिवार के अलावा मेरे चाचा एवं चाची भी साथ में ही रहते थे। मेरे चाचा पेशे से सैनेटरी वेयर के थोक विक्रेता थे, उन्होंने काफी पैसा कमा रखा था। उनकी शादी को कई साल हो गए थे लेकिन अभी तक कोई संतान नहीं थी। चाची की उम्र 29 साल की थी, वो पास के ही एक गाँव की हैं ! थी तो देहाती पर मस्त चीज थी, उनकी जवानी पूरे शवाब पर थी, झक्क गोरा बदन और कंटीले नैन नक्श और गदराये बदन की मालकिन थी, चाचा चाची ऊपर की मंजिल में रहते थे।

जब चाचा दुकान और मेरे अब्बू अपने दफ्तर चले जाते थे तो मैं और चाची दिन भर ऊपर बैठ कर गप्पें हांका करते थे। चाची का नाम आरज़ू है। सच कहूँ तो वो मुझे अपना दोस्त मानती थी। वो मेरे सामने बड़े ही सहज भाव से रहती थी, अपने कपड़े भी मेरे सामने ठीक से नहीं पहनती थी, उनके वक्ष की आधी दरार हमेशा दिखती रहती थी, कभी कभी तो सेक्स की बात भी कर लेती थी। जब भी मुझे अकेली पाती थी तो हमेशा द्वीअर्थी बात बोलती थी, जैसे बछड़ा भी दूध देता है, तेरा डंडा कितना बड़ा है? तुझे स्पेशल दवा की जरुरत है, आदि !

दिन भर मेरे कालेज और बंगलौर के किस्से सुनती रहती थी।

जब मेरे बंगलौर जाने के कुछ शेष रह गए तो एक दिन चाची ने कहा- हम भी बंगलौर घूमने जाना चाहते हैं।

मैंने कहा- हाँ क्यों नहीं ! आप दोनों मेरे साथ ही इस शनिवार को चलिए, मैं आप दोनों को पूरी सैर करवा दूँगा।

यह कहानी भी पड़े  मेरी सहेली की मम्मी की चुत चुदाइयों की दास्तान-1

चाची ने अपनी इच्छा चाचा को बताई तो चाचा तुरंत मान गए। मैंने उसी समय इन्टरनेट से तीन टिकट एसी फर्स्ट क्लास में बुक करवा लिए। शनिवार को हमारी ट्रेन थी, शनिवार को सुबह हम तीनों ट्रेन से बंगलौर के लिए रवाना हुए। अगले दिन शाम सात बजे हम सभी बंगलौर पहुँच गए। मैंने उनको एक बढ़िया होटल में कमरा दिला दिया। उसके बाद मैं वापस अपने होस्टल आ गया। होस्टल आने पर पता चला कि कालेज के गैर शिक्षण कर्मचारी अपनी वेतनवृद्धि की मांग को लेकर अनिश्चित कालीन हड़ताल पर जा रहे हैं और इस दौरान कालेज बंद रहेगा। मेरे अधिकाँश मित्रों को यह बात पता चल गई थी इसलिए सिर्फ 25-30 प्रतिशत छात्र ही कालेज आये थे।

मैं अगले दिन करीब 11 बजे अपने चाचा के कमरे पर गया, वहाँ वे दोनों नाश्ता कर रहे थे। चाची ने मेरे लिए भी नाश्ता लगा दिया। मैंने देखा कि चाचा कुछ परेशान हैं।

पूछने पर पता चला कि जिस कम्पनी का उन्होंने फ्रेंचाइजी ले रखा है उस कम्पनी ने दुबई में जबरदस्त सेल ऑफ़र किया है, अब चाचा की परेशानी यह थी कि अगर वो वापस चाची को बनारस छोड़ने जाते और वहाँ से दुबई जाते तो तब तक सेल समाप्त हो जाती और अगर साथ में लेकर दुबई जा नहीं सकते थे क्योंकि चाची का कोई पासपोर्ट वीजा था ही नहीं।

मैंने कहा- अगर आप दुबई जाना चाहते हैं तो आप चले जाएँ क्योंकि मेरा कालेज अभी एक सप्ताह बंद रह सकता है। मैं चाची को या तो बनारस पहुँचा दूँगा या फिर आपके वापस आने तक यहीं रहेगी। आप दुबई से यहाँ आ जाना और फिर घूम फिर कर चाची के साथ वापस बनारस चले जाना।

चाचा को मेरा सुझाव पसंद आया।

चाची ने भी कहा- हाँ जी, आप बेफिक्र हो कर जाइए और वापस यहीं आइयेगा। तब तक इम्तियाज़ मुझे बंगलौर घुमा देगा। आपके साथ मैं दोबारा घूम कर वापस आपके साथ ही बनारस जाऊँगी।

यह कहानी भी पड़े  क्लास की हॉट लड़की की चुदाई

चाचा को चाची का यह सुझाव भी पसंद आया।

लैपटॉप पर इन्टरनेट खोल कर देखा तो उसी दिन के दो बजे की फ्लाईट में सीट खाली थी। चाचा ने तुरंत सीट बुक की और हम तीनों एयरपोर्ट के लिए निकल पड़े। दो बजे चाचा की फ्लाईट ने दुबई की राह पकड़ी और मैंने एवं चाची ने बंगलौर बाज़ार की।

चाची के साथ लंच किया, घूमते घूमते हम मल्टीप्लेक्स आ गए। शाम के सात बज गए थे, चाची ने कहा- काफी महीनों से मल्टीप्लेक्स में सिनेमा नहीं देखा, आज देखूँगी।

मैंने देखा कि कोई नई पिक्चर आई थी, इसलिए सारी टिकट बिक चुकी थी। उसके किसी हाल में कोई एडल्ट टाइप की इंग्लिश पिक्चर की हिंदी वर्सन लगी हुई है, फिल्म चार सप्ताह से चल रही थी इसलिए अब उसमें कोई भीड़ नहीं थी।

मैंने दो टिकट सबसे कोने के लिए और हम हाल के अन्दर चले गए। मुझे सबसे ऊपर की कतार वाली सीट दी गई थी और उस पूरी कतार में दूसरा कोई भी नहीं था। हमारी कतार के पीछे सिर्फ दीवार थी, मैंने जानबूझ कर ऐसी सीट मांगी थी। मेरा आगे वाले तीन कतार के बाद कोने पर एक लड़का और लड़की अकेले थे, उस कतार में भी उसके अलावा कोई नहीं था। उससे अगली कतार में दूसरे कोने पर एक और जोड़ा था, इस तरह से उस समय 300 दर्शकों की क्षमता वाले हाल में सिर्फ 20-22 दर्शक रहे होंगे। पता नहीं इतने कम दर्शकों के लिए फिल्म क्यों लगा रखी थी।

Pages: 1 2 3 4 5 6

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


चूतचोदा चोदीrajsharmahindisexistoriesबूरपत्नी को चुदते देखा सेक्सHindi sexi kahaniya bhai bahen ki adla badli jija k sathबुड्डे नोकर के लम्बे और मोटे लन्ड कच्ची बुर चुदाई की कहानियाँLatest mosi bhua ki sath kamukata par hindi sexey kahaniya 2019 kiAnatarvasna me solelyपानी में गांड मारी48saal ki aurat ki chudaiमाँ की चुदाई नाहते समय सेक्सी स्टोरी हिंदीगानाबुरखेत केघर में चुदाई कहानियाँSwarg ka ehsas sex story in marathihard se hard chute mai land kese ghusae hindi sexy storyestoure cudaikeनदी किनारे सेक्स स्टोरी हिन्दीcoot par land ragadkr codnaantarvasna tai giftma ne muskurate hue chudai ke liye tyarAntravasana malken ke aor bibi cudaiantervasna khani ke sath ladki ne phone namber daleमामी की चुदाईमेंने अपने पति से चुदवाई कहानी याभाभी ने मुंह पर मुठ्ठ माराmere stress ko brte ne mitaaya chudai storymama ke 12 inch ke land se khet me bur fadwayi Sex chut aaa 2Xxx xxxसेक्सी कहानिया ओडीयो हिदी बतैअमी को ईद पर चोदाGosiya mast sex hdखाल्ला ने चुत चुदवाईhindi seX story मम्मीLatest mosi bhua ki sath kamukata par hindi sexey kahaniya 2019 kiबुर लंड घुसाने की कविताLatest mosi bhua ki sath kamukata par hindi sexey kahaniya 2019 kiचुदाई रिश्तावीवी की चुदाई गेर के साथचुदाई कच्ची कली कीjabardasti chupkese chor akar chode xxxSali or uski saheli ko choda Hindi sex storiesमैं मेरी सहेली ने मेरी चूत चुदाई गैर मर्द के मोटे लुंड से Sex chut aaa 2Xxx xxxमाँ के देहांत बाद बचपन से मौसी लंड की तेल मालीश करती चुदाई की कहानीयामाँ की चुदाई की ठंडी रजाई मे Sex chut aaa 2Xxx xxxहिंदी सैक्स स्टोरी मा ने मेरे लोडे की मालिश कीबुआ की सील तोडीचुदवाने वाली भाभीकिराएदार से पोर्न हिन्दी स्टोरीलड़की की चूतhttps://buyprednisone.ru/antarvasna-sex-stories-pyara-sa-sapna/3/अपने से आधी उम्र की से सेक्स स्टोरीजससुर के साथ दुसरी सुहागरातNew sexi story कमलाchhinal bahu chudakkdसाड़ियां छोड़कर पजाबी कपडे sexsex story ma or didi or biwi or khet majdur parivar.comदीदी चुदवा रही थीpappih saxy vidioआंटी पैंटी पेट मालMaa , mausi aur mami ko ek saath choda sex storyचुतमै अपनी रूम मे बैठ कर अपनी बुर का बाल सेब कर रही थी बेटा ने देखाकाकी की गुलाबी पैंटी कहानीHindi.azadlok kahaniमूत चुदाई की कहानियाँPhim sex nhanh địt nhau như ăn cướpगुलाबी गांड़मां की इच्छा पूरी की सेक्स स्टोरीजहहह उम्म्ह सेक्स स्टोरीममी पापा कि समुहिक चुदाइभुआ की चुदाईलंड पर उछलने लगीगँदि कहानिFufa Aur mummyनीदं मे दिदि कि गाड़ मारीboor me tel malis 12 sal ki larki ka sex baba ki hindi kahaniहिंदी सेक्स स्टोरी नाभि के नीचे स्कर्टXXX SHCHI TAUR VIDEO COM handi dipli pa chodi story xxx...राज शर्मा की sex badaचुत ताई कीगरमा गरम मराठी सेक्स कथाwww.sarvisman ki bibi ki sex storiantvasana sex.comराज शर्मा सेक्स स्तोरियेसhabshi muslim antarvasnaरंगीली बहनों की चूत चुदाई का मज़ाphimsetmyhangmama ke 12 inch ke land se khet me bur fadwayiसेक्स स्टोरी भाभी ने कहा जोर से पेलो मेरे राजासुहागरात me chuda part 4ताऊ जी का लन्ड मम्मी की चूत में