मलिक की बीवी की अंतर्वसना शांत की

“प्रिया जी यह सब ठीक है क्या?”

“ठीक है या नहीं, मैं नहीं जानती…पर क्या मैं और मेरा यह गुलाबी रेशमी बदन तुम्हें अच्छा नहीं लगा क्या?” कहते हुए वो एक मस्त अंगड़ाई ली. उसकी चुचियों का उभार और बढ़ गया था. निपल्स और भी खड़े हो गये थे. अब चाहे जो हो मैं दिल की बात पर चलने को तैयार था.

“आप…आप की यह मस्त अंगड़ाई तो साधुओं की तपस्या भंग करने वाली है.” और मैं ने उसे अपनी बाहों मे कस लिया. मेरे होन्ट उसके रसभरे होन्ट से जुड़ गये.

वो भी किस मे पूरा पूरा मज़ा ले रही थी. दोनों की ज़बाने एक दूसरे से उलझ रही थीं. अब मैं उसके गालों को चूमता हुआ दाएँ कान की लॉ तक गया. वह मस्ती मे मोन कर रही थी. फिर उसी तरह किस करता हुआ बाएँ कान की लॉ तक गया.

मेरा एक हाथ उसकी मस्त नितंबों को मसल रहा था और दूसरा हाथ उसकी चुचियों से खेल रहा था. अयाया….क्या अहसास था.

मैं उसके गले पर अपने होतों का निशान छ्चोड़ता हुवा उन उन्नत पहाड़ियों तक पहुँचा. दोनो स्तनों के बीच की घाटी मे अपना मुँह डाल कर रगड़ने लगा.

मेरा लंड फिर से अपनी पूरी लंबाई को पा कर अकड़ रहा था और उसकी नाभि के आसपास धक्के मार रहा था. इन सब से वह इतना बेचैन हो गयी कि अपनी एक चूंची को पकड़ कर मेरे मुँह मे डाल दी. मैं बारी बारी से काफ़ी देर तक दोनों चुचियों को चूस चूस कर मज़े ले रहा था.

उसके मुँह से भी उफ़फ्फ़….आअहह….यअहह….चूऊवसो..और चूसो…जैसे शब्द निकल रहे थे. अब मैं चुचियों को छ्चोड़ कर नीचे बढ़ा. उस की नाभि बहुत ही सुंदर और सेक्सी थी. अपनी ज़ुबान उसमे डाल कर मैं उसे चूसने लगा. वह तो एक्सिटमेंट से तड़प
रही थी. जल्द ही मैं और नीचे बढ़ा.मेरे दोनों हाथ उसके चूतदों पर कस गये.

यह कहानी भी पड़े  पति से बेवफ़ाई की सजा

मेरे सामने उसका सबसे कीमती अंग क्लीन शेव्ड योनि थी. उसकी चूत तो किसी कुँवारी लड़की जैसी थी. अपनी दो उंगलियों की मदद से मैने उसके लिप्स खोले और अपना मुँह लगा दिया.

वहाँ तो पहले से ही नदियों जैसी धारा बह रही थी. उन्हें चूस कर साफ करता मैं अपनी ज़बान उसमे डाल दिया.

उसकी सिसकियाँ तेज़ से तेज़ होती जा रही थी. तभी उसने मेरे सर को ज़ोर से अपनी चूत पर दबा दिया और एक बार फिर झाड़ गयी.

“हारीश डार्लिंग अब आ जाओ, डाल दो अपना मूसल मारी चूत मे, अब बर्दाश्त नहीं हो रहा….उफफफ्फ़.”

मैं भी अब ज़्यादा देर नही करने की पोज़िशन मे था. उसे पीठ के बल लिटा कर उसके पैरों के बीच आ गया. उसने खुद अपनी दोनों जांघें फैला ली.

मैं अपने लंड के सुपादे को उसकी लव होल पर रखा ओर ज़ोर का धक्का मारा. लगभग 2” लंड अंदर गया और साथ साथ वो ज़ोर से चीख पड़ी…”ओववव….माआंन्न…..मर गयी….ऊओह”

मुझे बड़ा ताज्जुब हुया कि वह वर्जिन लड़की की तरह कर रही थी. इसे मैं उसका नाटक समझ कर एक के बाद एक कई ज़ोरदार झटके लगा दिए. मेरे लंड मे काफ़ी जलन होने लगी थी.

उसकी चूत तो सचमुच किसी कुँवारी की तरह कसी हुई थी. वह दर्द से छॅट्पाटा रही थी और तेज़ तेज़ चीख रही थी. मैने उसकी चीखों को रोकने की कोशिश भी नहीं किया.

उसका अपना घर था.अपनी मर्ज़ी से छुड़वा. रही थी.

मैं अपना पूरा लंड अंदर डाल कर थोड़ी देर रुक गया और उसकी चुचियों और होन्ट को चूसने लगा. कुच्छ ही पलों मे वह रेलेक्स लगने लगी और अपनी गांद उठा कर हल्का झटका
दिया.

यह कहानी भी पड़े  साली की चूत की गर्मी ठंडी की

मैं समझ गया कि अब उसकी तकलीफ़ ख़त्म हो चुकी है. फिर तो मैं जो स्पीड पकड़ा कि उसकी तो नानी याद आ गयी. कितने तरह की आवाज़ें उसके मूह से निकल रही थी. कई बार वह झाड़ चुकी थी.

आख़िरकार मेरा भी वक़्त क़रीब आ गया. मैने अपने झटकों की रफ़्तार और तेज़ कर दी. दो चार मिनट के बाद मैं उसकी चूत मे झाड़ गया.

हम दोनो पसीने से तर हो चुके थे और हमारी साँसें तेज़ तेज़ चल रही थीं. दोनों अगल बगल लेट कर अपनी साँसें दुरुस्त करने लगे.

दस मिनट बाद वह उठी और ज़ोर से मुझसे लिपट गयी. मेरे चेहरे पर चुंबनों की झड़ी लगा दी.

“हारीश…मेरी जान… आज तुमने मुझे वो खुशी दी है जिस से मैं आज तक अंजान थी.”

“मगर तुम तो शादी शुदा हो…फिर..?” और मुझे उसका चीखना चिल्लाना याद आ गया.

“मैं आज तक कुँवारी थी….और तुम…एक वर्जिन लड़के ने आज मेरा कुँवारापन ख़त्म किया है.” और उस ने मेरे लंड की ओर इशारा किया.

मैने अपने लंड को देखा तो दंग रह गया. वह खून से सना हुवा था. उसकी चूत के आस पास भी खून था.

“तो..मतलब सेठ जी…”
“हां वो नमार्द है”

Pages: 1 2 3 4

Comments 1

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


aunty ke parlor me unke sath saheli ko bhi chodasavitaki sex aapviti kahaniभाईन बहन कि चुत मारीराज शर्मा हिंदी सेक्स स्टोरी माँ बेटा खेत मेंदीदी के सामने बैठकर मुठ मारअनजान के साथ मेरी चुदाईमेरी सेक्सी कहानी होटलMishtichr xxx kolejantervsna aunti or bhabhiरिता कि चुदाईpadosi ladki antervasna rajayiस्कूल गर्ल सेक्सबीवी की चुदाई का बदला कहानीरडी को कुतीया वनाकर चौदी विडीयोdost ki bibi pradnya ki chudai sex storyKomal na apana bahi sa cudvaya xxx kahaniकूपे में मां की चुदाईtayi ke chudaiyameri bhabhi ke kamuk uroj hindi sex storynajayaz rishta incest maa beta hindi kahaniपापा सेक्स हिन्दी कहानीstore sex बहाना बनापापा ने कामवालि सलमा कि गांड sex storyभाभीभोसड़ीअंकल मेरा चुदाईसुहागरात me chuda part 4sax.kahane.dost.mame.keHindi sexy mausi asceticचूचे कि चूदाईमेरी अभूतपूर्व चुदाईmumm ko train me god me bitha kr sab ke samne choda sex storiesAntarvasna baba ka ashrampoti antarvasnaके पेटीकोट का नाड़ा सेक्स स्टोरीजMeri pyaas ek ladke be bhujaiHindi sex rajsarma maa beta comgair matdo chodane ki khaniघर में सामूहिक चुदाई.comचूत चुदाईMami ki nokri part 2 xxx suoriesमोटे लंड से चुदाई की कहानियांBadi Didi ko Gand me Mar sadi suds storyपापा के लुंड से मेरी सिल टूटी कहानीबाबा हिंदी सेक्स स्टोरीKMLA.SEXXXXSalma antarvasnaकमला बहु और ससुरसैकसी विडियो भोसङि वालैमाँ की सेक्सी कमर कहानी राज शर्मा बूरHena.kahi.kali.torne.ke.hindi.story.xxxमवशी बेटा की सेकसी बिडीवभाभीकीचुदाईMujhe ragad kr pelodonolandchutmainxxx vidos mammi ammrikaक्यों चोदू तुम्हे कहानीxxx story hindi train me chooti bahen ko goad me baithayhabshi muslim antarvasnaचाची की चुदाई कामुकता कॉममामी की चुदाईmeri chachi ne naukrani ka intjam kiyaराज शर्मा इन्सेस्ट स्टोरीAntarvasana.bhiga badan aur uncal se chudaimom mere kamre me soyeबहन का आंग पर्दर्सन सेक्स स्टोरीज हिंदीदीदी चोद लेने दोचोदा चोदीBiwi ki kamuktaचाची की अन्तर्वासनामाँ बहन को एक साथ छोड़ा क्सक्सक्स दोनों देखा केसाड़ी पारदर्शी दिखाई सेक्स कहानीबहन की चुदाई माँ के साथ चूत antrvasna